अजमेर रैली के जरिए राजस्थान विधानसभा चुनाव और मिशन 2024 पर है बीजेपी की नजर?

BJPs Ajmer rallyराजस्थान में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं और अगले साल देश में लोकसभा का चुनाव होना है। हाल ही में बीजेपी को कर्नाटक विधानसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में भाजपा का पूरा फोकस इस साल होने वाले राजस्थान चुनाव पर है।

BJP’s Ajmer rally: राजस्थान में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में भाजपा का पूरा फोकस राजस्थान की सत्ता में वापसी पर है। इसी के चलते PM मोदी आज राजस्थान से जनसंपर्क अभियान की शुरुआत करेंगे भाजपा ने पीएम मोदी के कार्यक्रम के लिए अजमेर को चुना है। ऐसे में ये जानना जरुरी है कि आखिर बीजेपी ने पीएम मोदी के कार्यक्रम के लिए अजमेर को ही क्यों चुना और प्रधानमंत्री के यहां रैली करने से कितनी सीटों पर इसका सीधा प्रभाव पड़ेगा।

BJP का राजस्थान पर पूरा फोकस

दरअसल, राजस्थान में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं और अगले साल देश में लोकसभा का चुनाव होना है। हाल ही में बीजेपी को कर्नाटक विधानसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में भाजपा का पूरा फोकस उन राज्यों पर है, जहां इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं। इनमें एक राज्य राजस्थान भी है। यहां इस साल के अंत (दिसंबर) में चुनाव होना है।

अजमेर से मिशन 2024 का शंखनाद करेंगे पीएम मोदी

बीजेपी ने केंद्र की सत्ता में 9 साल पूरे होने पर देश भर में एक महीने तक जनसंपर्क अभियान को शुरू करने का फैसला किया है। इसी के तहत ही पीएम मोदी आज इस अभियान की शुरुआत राजस्थान के अजमेर से करेंगे। भाजपा का दावा है कि पीएम मोदी की इस रैली में करीब दो लाख लोगों की भीड़ जुट सकती है।

BJP ने अजमेर को ही क्यों चुना?

  • प्रधानमंत्री मोदी के इस सभा के जरिए बीजेपी अजमेर के आसपास की आठ लोकसभा सीटों को भी साधने में जुटी है।
  • इन आठ लोकसभा क्षेत्रों में 64 सीटें आती हैं। हालांकि, बीजेपी का पूरा फोकस करीब 45 विधानसभा सीटों पर हैं, जो अजमेर से बिलकुल नजदीक हैं।
  • पीएम मोदी की रैली के लिए आठ लोकसभा और 45 विधानसभा क्षेत्रों के लोगों के पहुंचने की उम्मीद है।
  • इन 45 विधानसभा सीटों में से भाजपा के पास 20 सीटें हैं। इसके अलावा 20 सीटें कांग्रेस के पास है और बाकी सीटें अन्य दलों के पास है।

सचिन पायलट के गढ़ में सेंध लगाने में जुटी BJP

ये भी माना जा रहा है कि पीएम मोदी के अजमेर से अभियान की शुरुआत करने से कांग्रेस को बड़ा नुकसान हो सकता है। बता दें कि कांग्रेस नेता और राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट अजमेर से ही आते हैं। साल 2018 के विधानसभा चुनाव के दौरान उन्होंने पार्टी की जीत में अहम भूमिका निभाई थी। इसलिए पीएम मोदी की रैली के लिए अजमेर के चुनना एक बड़ी वजह माना जा रहा है।

Post Comment

You May Have Missed