तो क्या कोरोना वैक्‍सीन की बूस्‍टर डोज भी लगवानी पड़ेगी? सरकार का आ गया जवाब

0
12

नई दिल्ली
जिन लोगों को कोविड वैक्सीन की दोनों डोज लग गई हैं, क्या उन्हें बूस्टर डोज लगेगी? अभी हेल्थ मिनिस्ट्री ऐसा कोई विचार नहीं कर रही। हेल्थ मिनिस्ट्री सूत्रों के मुताबिक अभी बूस्टर डोज को लेकर कोई एक्सपर्ट एडवाइज नहीं आई हैं इसलिए फिलहाल इस पर कोई बात नहीं हो रही है। इस महीने कोविड वैक्सीन की 28 करोड़ से ज्यादा डोज उपलब्ध होंगी।

हेल्थ मिनिस्ट्री सूत्रों के मुताबिक इसमें 60 लाख डोज दुनिया की पहली डीएनए वैक्सीन जायको-वी की भी होंगी। ये तीन डोज वाली वैक्सीन है। जिसकी दूसरी डोज 28 दिन बाद और तीसरी डोज 56 दिन बाद लगाई जाएगी। अक्टूबर में करीब 22 करोड़ डोज कोविशील्ड और 6 करोड़ डोज कोवैक्सीन की उपलब्ध होंगी। भारत को सितंबर में करीब 26 करोड़ वैक्सीन डोज मिली थी।

भारत की जरूरत के हिसाब से वैक्सीन की पर्याप्त डोज उपलब्ध होने के बाद भारत इस साल की चौथी तिमाही में वैक्सीन कमर्शियल एक्सपोर्ट भी कर सकता है। सरकारी सूत्रों के मुताबिक सरकार उम्मीद कर रही है कि 18-19 अक्टूबर थे देश में 100 करोड़ डोज लग जाएंगी। हेल्थ मिनिस्ट्री 100 करोड़ का आंकड़ा पूरा होने पर इसे कोविड वॉरियर्स और हेल्थ केयर वर्कर्स के साथ सेलिब्रेट करने की योजना बना रही है।

सरकारी सूत्रों के मुताबिक दीवाली और छठ के लिए केंद्र सरकार अलग से कोई गाइडलाइन जारी नहीं कर रही है। कोविड को फैलने से रोकने के लिए मौजूदा गाइडलाइन ही जारी रहेंगी। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने केंद्र से अपील की थी कि दीवाली-छठ से पहले गाइडलाइन जारी की जाएं। सरकारी सूत्रों का कहना है कि पहले से ही कोविड प्रोटोकॉल चल रहा है और गाइडलाइन लागू हैं, अब अलग से गाइडलाइन की जरूरत नहीं।