तनाव कम करने की पहल, सिक्किम में भारत-चीन के बीच एक और हॉटलाइन शुरू

0
38

नई दिल्ली
भारतीय सेना और के बीच नॉर्थ सिक्किम में भी हॉटलाइन शुरू की गई है। यह नॉर्थ सिक्किम में कोंगरा ला पर है और चीन की तरफ तिब्बती ऑटोनोमस रीजन में खांबाजोंग में स्थापित की गई है। 1 अगस्त को चीनी सेना यानी पीपल्स लिबरेशन आर्मी डे भी होता है और इसी दिन इस हॉटलाइन की शुरुआत की गई।

भारतीय सेना ने एक बयान जारी कर कहा कि इससे दोनों सेनाओं के बीच विश्वास और बढ़ेगा और बेहतर रिश्ते बनेंगे। हॉटलाइन के उद्घाटन में दोनों देशों की सेनाओं के स्थानीय कमांडर शामिल थे और हॉटलाइन के जरिए दोस्ती और सद्भावना का मैसेज देकर हॉटलाइन शुरू की गई। अब भारत और चीन सेना के बीच हॉटलाइन की संख्या बढ़कर छह हो गई है। चीन के साथ पांच हॉट लाइन पहले से हैं। ये हॉटलाइन वेस्टर्न सेक्टर में डीबीओ-टीडब्लूडी और चुशुल-मॉल्डो में हैं। ईस्टर्न सेक्टर में नाथुला, बूमला और किबितु-दमाई में हॉट लाइन है।

भारतीय सेना के डीजीएमओ और चीन के वेस्टर्न थिएटर कमांड के बीच हॉटलाइन का प्रस्ताव लंबे वक्त से चल रहा है। दोनों देश इसके लिए राजी भी हैं लेकिन अभी तक यह स्थापित नहीं हो पाई है। हॉट लाइन का मतलब है डायरेक्ट लाइन। इसमें एक फोन सीधे दूसरे फोन से कनेक्ट होता है और बीच में कोई एक्सचेंज नहीं होता। हॉट लाइन पर हर दिन हर वक्त कोई न कोई ड्यूटी पर रहता है।

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर इन हॉटलाइन का इस्तेमाल दो स्थिति में होता हैं। एलएसी पर पांच जगह भारत-चीन सेना के बीच बॉर्डर पर्सनल मीटिंग (बीपीएम) पॉइंट हैं। साल में चार बार सेरिमोनियल बीपीएम होती हैं, दो बार इंडियन साइड और दो बार चीन की तरफ। इसके लिए एक दूसरे को इनवाइट करने के लिए हॉट लाइन का इस्तेमाल होता है। हालांकि पहले कोविड की वजह से और फिर ईस्टर्न लद्दाख में तनाव की वजह से भारत-चीन के बीच यह सेरेमोनियर बीपीएम नहीं हो पा रही हैं।

इसके अलावा इमरजेंसी में हॉटलाइन का इस्तेमाल होता है। अगर चीन की तरफ से कुछ उल्लंघन किया गया है या उनके जानवर भारत के इलाके में आ गए तो इसकी जानकारी देने के लिए हॉट लाइन में मैसेज दिया जाता है। लोकल स्तर पर कोई तनाव है तो उसे वहीं पर सुलझाने की कोशिश होती है। अगर कोई वॉयलेशन हुआ है तो लिखित में विरोध जताया जाता है या फिर हॉटलाइन के जरिए मैसेज भेजकर फ्लैग मीटिंग (लोकल कमांडर्स के बीच) की मांग की जाती है। जहां टेरेन खराब हैं वहां रोज सुबह हॉट लाइन पर टेस्ट कॉल भी होती है, बस ये देखने के लिए कि लाइन ठीक है।

भारत और पाकिस्तान सेना के बीच भी हॉट लाइन हैं। पाकिस्तान के साथ हॉटलाइन उरी-चखोटी, तिथवाल, मेढ़र-हॉट स्प्रिंग, पुंछ-रावलकोट में हैं। इसके अलावा पाकिस्तान के साथ डीजीएमओ (डायरेक्टर जनरल मिलिट्री ऑपरेशंस ) स्तर पर भी हॉटलाइन है।