लखनऊ में बड़ी आतंकी साजिश का खुलासा, कश्मीरी टेरर मॉड्यूल से जुड़े हैं तार, कई जिलों में अलर्ट

0
26

लखनऊ
उत्तर प्रदेश के लखनऊ में दुबग्गा इलाके में उस समय हड़कंप मच गया जब पुलिस और एटीएस की टीमों ने एक घर को घेर लिया। बताया जा रहा है कि यहां एक घर में पुलिस और एटीएस को आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। पूछताछ के बाद अलकायदा के दो संदिग्ध आतंकियों को हिरासत में लिया गया है। आईजी जीके गोस्वामी ने बताया कि एटीएस का ऑपरेशन अभी चल रहा है। बम और कई असलहे बरामद हुए हैं। गिरफ्तार किए गए दोनो आतंकियों के से पूछताछ की जा रही है।

पांच आतंकियों के भागने की भी सूचना
शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि कई जगह पर बड़ी घटनाओं को अंजाम देने की योजना बना रहे थे। बाकी एटीएस अफसरों के मुताबिक ऑपरेशन खत्म होने के बाद दी ही कुछ बोला जा सकता है। पकड़े गए दो आतंकियों के साथ मौजूद अन्य 5 साथियों के ऑपेरशन से पहले भागने की सूचना है। इसके साथ ही लखनऊ से सटे अन्य जिलों में भी अलर्ट जारी किया गया है। रायबरेली, सीतापुर, बाराबंकी बॉर्डर पर चेकिंग बढ़ा दी गई है। एटीएस की टीम इस ऑपरेशन के लिए बीते 1 सप्ताह से काम कर रही थी।

कश्मीर के एक्यूआईएस मॉड्यूल से जुड़े हैं तार
इन आतंकियों के तार जम्मू-कश्मीर बॉर्डर पर सक्रिय एक्यूआईएस मॉड्यूल से जुड़े हैं। जम्मू में हुए एक ब्लास्ट के बाद लखनऊ में छिपे आतंकियों की जानकारी मिली थी। सूटकेस में पकड़े गए बम भरे जा रहे हैं। काफी मात्रा में विस्फोटक मिल रहा है। शाहिद के मकान से 4 काले सूटकेस में गोला-बारूद भरे गए हैं।

खाली कराया गया इलाका
किसी बड़ी अनहोनी से बचने के लिए पुलिस और एटीएस की टीमों ने मकान के आसपास के इलाके को पहले ही खाली करा लिया है। लोगों को यहां आने-जाने से रोका जा रहा है। आसपास मकानों के लोगों को बाहर निकाल लिया गया है।

मलिहाबाद में रहता है मकान मालिक
बताया जा रहा है कि पुलिस और एटीएस ने जिस मकान को घेरा है, वह मकान मलिहाबाद के शाहिद नाम के युवक का है। कहा जा रहा है कि उसने यह मकान पंद्रह साल पहले खरीदा था। बीते दिनों यहां वसीम नाम का एक संदिग्ध युवक नजर आ रहा था।

बम निरोधक दस्ता भी पहुंचा
बताया जा रहा है कि मौके पर एटीएस के कमांडो भी हैं। इसके साथ बम निरोधक दस्ता भी मौजूद है। आशंका है कि संदिग्धों के पास विस्फोटक सामग्री हो सकती है इसलिए एटीएस बम निरोधक दस्ता अपने साथ ले गई। मौके से कुछ विदेशी असलहे भी बरामद हुए हैं।