सिंधिया की सुरक्षा में बड़ी चूक, 8 km दूसरी गाड़ी को पुलिस ने किया एस्कॉर्ट, 14 पुलिसकर्मी सस्पेंड

0
32

ग्वालियर
बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया () की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है। दिल्ली वह सड़क मार्ग से ग्वालियर पहुंचे हैं। उनकी सुरक्षा में मुरैना से ग्वालियर के बीच में बड़ी चूक (Big Lapse In Scindia Security) हुई है। पायलट वाहन मुरैना के आगे दूसरी गाड़ी को एस्कॉर्ट करती रही है। आठ किलोमीटर आगे चलने के बाद उसे पता चला कि जिस गाड़ी को सुरक्षा दे रहे हैं, वह ज्योतिरादित्य सिंधिया की नहीं है। पायलट वाहन में बैठे पुलिसकर्मियों को जब इसका एहसास हुआ तो सिंधिया की गाड़ी काफी आगे निकल गई थी। इस लापरवाही के लिए 14 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया है।

दरअसल, ज्योतिरादित्य सिंधिया को जेड श्रेणी की वीआईपी सुरक्षा प्रदान है। वह दिल्ली से बायरोड ग्वालियर आ रहे थे। शाम के समय मुरैना जिले की पायलट उन्हें फॉलो करती हुई ग्वालियर की तरफ बढ़ रही थी। निरावली के पास मुरैना-ग्वालियर बॉर्डर पर ग्वालियर की पायलट गाड़ी को सांसद सिंधिया को फॉलो करते हुए जय विलास पैलेस ले जाना था। पायलट वाहन में सवार पुलिसकर्मिंयों को कुछ गलतफहमी हो गई। गलतफहमी में सिंधिया के वाहन की जगह वहां से गुजरने वाली उसी कलर की दूसरी गाड़ी को पायलट वाहन फॉलो करने लगा।

थोड़ी देर बाद हुआ एहसास
थोड़ी देर बाद जब पुलिसकर्मियों को गलत गाड़ी को फॉलो करने का एहसास हुआ ,तो उनके होश उड़ गए। वहीं, जब उन्हें गलती का एहसास हुए तो पता चला कि सांसद सिंधिया की गाड़ी काफी आगे निकल गई। करीब 8 किलोमीटर बिना पायलट वाहन के राज्यसभा सांसद सिंधिया का वाहन चलता रहा है।

हजीरा थाने की पुलिस सिंधिया को एस्कॉर्ट
इसके बाद जैसे ही ज्योतिरादित्य सिंधिया का काफिला हजीरा थाने से गुजरा तो सुरक्षा में लापरवाही नजर आई। उसके बाद हजीरा थाने की पुलिस ने सांसद सिंधिया को जयविलास पैलेस तक फॉलो करते हुए सुरक्षित छोड़ा है। सुरक्षा में ऐसी चूक मुरैना और ग्वालियर की फॉलो टीम में आपसी सामंजस्य नहीं होने के कारण हुई है। इसके मुरैना के नौ और ग्वालियर के 5 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है।