वैक्‍सीनेशन पर BJP-AAP में जुबानी जंग, सीएम टीके की कमी की दे रहे दुहाई, जावड़ेकर ने लिया आड़े हाथ

0
36

नई दिल्‍ली
वैक्‍सीनेशन को लेकर भाजपा और आप आमने-सामने हैं। कोरोना की महामारी के बीच इसे लेकर खूब राजनीति हो रही है। दिल्‍ली में केजरीवाल सरकार वैक्‍सीन की कमी की दुहाई दे रही है। इसका ठीकरा वह केंद्र पर फोड़ रही है। वहीं, भाजपा ने आप को आड़े हाथों लिया है। उसने कहा कि अच्‍छा होगा कि सीएम बहाना बनाना छोड़ दें।

दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्‍ली में शनिवार से युवाओं का टीटाकरण रोक दिया गया है। केंद्र सरकार ने युवाओं के लिए जितनी वैक्सीन भेजी थीं, वे खत्म हो गई हैं। वैक्‍सीन की कुछ डोज बची हैं, वे कुछ सेंटर में दी जा रही हैं। वे भी शाम तक खत्म हो जाएंगी। रविवार से युवाओं के वैक्सीनेशन के सभी सेंटर बंद हो जाएंगे।

सीएम ने बताया कि दिल्ली को हर महीने 80 लाख वैक्सीन की जरूरत है। इसके मुकाबले मई में हमें केवल 16 लाख वैक्सीन मिली। जून के लिए केंद्र ने दिल्ली का कोटा और कम कर दिया है। जून में हमें केवल 8 लाख वैक्सीन दी जाएगी।

उन्‍होंने कोविड-19 की स्थिति पर प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है। उनके पत्र के अनुसार, युवाओं के लिए वैक्‍सीन खत्‍म हो गई है। शनिवार से हमें इन वैक्‍सीनेशन सेंटरों को बंद करना पड़ेगा। दिल्‍ली को हर महीने 80 लाख वैक्‍सीन की जरूरत है। तभी 3 महीने के अंदर सभी को यहां वैक्‍सीन लग पाएगी।

भाजपा ने किया पलटवार
भाजपा ने इस पर पलटवार किया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्‍ली के नाम पर लगातार राजनीति कर रहे हैं। अब उन्‍होंने केंद्र से वैक्‍सीन की मांग की है। केंद्र सरकार पहले ही दिल्‍ली को 50 लाख वैक्‍सीन की डोज दे चुकी है। आने वाले दिनों में उसे और वैक्‍सीन उपलब्‍ध कराई जाएगी।

जावड़ेकर बोले कि दिल्‍ली के सीएम वैक्‍सीनेशन पर सिर्फ राजनीति कर रहे हैं। अच्‍छा होगा कि केजरीवाल बहाना बनाना छोड़ दें। उन्‍होंने ऑक्सिजन की किल्‍लत के समय भी हल्‍ला मचाया था। बाद में कहा था कि यह ज्‍यादा है।