एक खुराक वाली रूसी कोरोना वैक्सीन को भारत में मंजूरी से पहले देखा जाएगा डेटा, दावे का टेस्ट

0
38

नई दिल्ली
रूस की सिंगल डोज वैक्सीन Sputnik Light को भारत में इस्तेमाल की मंजूरी से पहले रूस के दावे का परीक्षण किया जाएगा। रूस में शोध से जो नतीजे सामने आएं हैं उस डेटा का भारत में परखा जाएगा और साइंटिफिक डेटा के हिसाब से उसे मंजूरी दी जाएगी। Sputnik Light वैक्सीन के बारे में पूछने पर नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी. के. पॉल ने कहा कि रूस में जो शोध किया है उसमें कहा गया है कि एक ही डोज काफी है।

उन्होंने कहा कि उनका जो दावा है हम उसका परीक्षण करेंगे। उनकी एप्लिकेशन आती है तो देखेंगे, इसका डेटा देखा जाएगा, इम्युजेनेसिटी देखई जाएगी, सेफ्टी तो हमें मालूम है। उन्होंने कहा कि एक ही डोज में कितनी प्रोटेक्शन है यह डेटा देखने का बाद मेरिट के आधार पर प्रक्रिया की जाएगी।

हालांकि यह बहुत उत्साहवर्धक है और उम्मीद जगाने वाला है कि एक डोज से ही प्रोटेक्शन मिल सकती है। उन्होंने कहा कि जॉन्सन एंड जॉन्सन वैक्सीन भी सिंगल डोज वैक्सीन है। सिंगल डोज वैक्सीन आने से वैक्सिनेशन की स्पीड तेज होगी और उसी स्टॉक पर दोगुने लोगों को वैक्सीन दे सकेंगे।