दिल्ली में स्टॉक हुआ कम, ओडिशा से ऑक्सीजन एयरलिफ्ट कराने की तैयारी में केजरीवाल सरकार

0
6

नई दिल्ली
राजधानी दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच दिल्ली के कुछ हॉस्पिटल में ऑक्सीजन खत्म होने के कगार पर पहुंच गया है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गुरुवार कहा कि राजधानी के कुछ अस्पतालों में ऑक्सीजन पूरी तरह खत्म है, उनके पास अब कोई विकल्प नहीं बचा है। वहीं ऑक्सीजन दिल्ली में जल्द से जल्द पहुंचे इसके लिए केजरीवाल सरकार एयरलिफ्ट कर ऑक्सीजन मंगाने की तैयारी कर रही है।

ऑक्सीजन एयरलिफ्ट कराने की तैयारी
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार कहा कि दिल्ली को ऑक्सीजन की बढ़ायी गयी मात्रा में से अधिकतर हिस्से की आपूर्ति ओडिशा से होनी है। सैकड़ों किलोमीटर की दूरी के कारण दिल्ली सरकार समय बचाने के लिए विमान से इसकी आपूर्ति किए जाने पर विचार कर रही है।

ऑक्सीजन की किल्लत के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आपूर्ति बढ़ाने के लिए ऑक्सीजन की खेप विमानों से लाने के प्रयास चल रहे हैं। केजरीवाल ने कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए दिल्ली को ऑक्सीजन का कोटा बढ़ाने को लेकर केंद्र और उच्च न्यायालय के प्रयासों की सराहना की और कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में आपूर्ति पहुंचने लगी है।

दिल्ली को रोजाना 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत
केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के लिए चिकित्सीय ऑक्सीजन की रोजाना की मात्रा 378 मीट्रिक टन निर्धारित थी जिसे बढ़ाकर 480 मीट्रिक टन कर दी गयी है और इसके लिए उन्होंने केंद्र का शुक्रिया अदा किया। साथ ही कहा कि अनुमान के मुताबिक दिल्ली को रोज 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि केंद्र द्वारा निर्धारित कोटा के मुताबिक दूसरे राज्यों से ऑक्सीजन की आपूर्ति हो रही है लेकिन कुछ राज्य राष्ट्रीय राजधानी आ रहे ट्रकों को रोक रहे हैं। यह ठीक नहीं है। यह बड़ी आपदा है और हमें एकजुट होकर लड़ने की जरूरत है। हम सब एक साथ भारतीय बनकर लड़ेंगे, तो हम कोरोना को हरा देंगे।

हमारे पास कोई विकल्प नहीं
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गुरुवार को कहा कि राजधानी के कुछ अस्पतालों में ऑक्सीजन पूरी तरह खत्म हो गई है, उनके पास अब कोई विकल्प नहीं बचा है। उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ राज्य राष्ट्रीय राजधानी के हिस्से की चिकित्सीय ऑक्सीजन पर नियंत्रण हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं। इस बीच दिल्ली के सरोज अस्पताल ने कोविड-19 मरीजों के इलाज के लिए ऑक्सीजन की तत्काल आपूर्ति कराने का अनुरोध लेकर दिल्ली उच्च न्यायालय का रुख किया है। इस पर आज सुनवाई होगी।