महाराष्ट्र की राह पर यूपी ? एक ही दिन में कोरोना के 12 हजार से ज्यादा केस, 4000 मरीज सिर्फ लखनऊ से

0
5

लखनऊउत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर बेकाबू हो गई है। प्रदेश में बीते 24 घंटे के अंदर कोरोना के रेकॉर्ड 12787 नए मामले सामने आए हैं। वहीं महामारी के चलते 48 लोगों की मौत भी हो गई। शनिवार को आए कोरोना के मामलों में सबसे अधिक संख्या राजधानी लखनऊ से सामने आई। यहां एक दिन में रेकॉर्ड 4059 नए केस सामने आए हैं, जबकि कोरोना के चलते 23 लोगों ने दम तोड़ दिया।

संक्रमण के अब तक कुल 6 लाख 76 हजार 739 मामले सामने आ चुके हैं। शनिवार को प्रदेश के अलग-अलग अस्पतालों से 2207 कोरोना मरीज ठीक भी हुए हैं। इसके साथ ही महामारी से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 608853 हो गई है। प्रदेश में मौजूदा समय में कोरोना संक्रमण के कुल 58801 केस एक्टिव हैं।

लखनऊ में 4059 नए केस, 23 की मौत
शनिवार को जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार, राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण के रेकॉर्ड 4059 नए केस सामने आए हैं। इसके चलते राजधानी में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 102963 हो गई। वहीं राजधानी में महामारी के चलते 23 लोगों की मौत भी हो गई। इससे कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1301 हो गई।

कोरोना के बढ़ते मामलों पर सीएम योगी ने उठाया कदम
यूपी के कुछ जिलों में कोरोना वायरस का संक्रमण एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगा है। इसको देखते हुए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने टीम 11 के साथ बैठक कर बड़ा कदम उठाया है। लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी और कानपुर नगर में बढ़ते कोरोना के मामलों पर लगाम लगाने के लिए सीएम ने सभी सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों में 50 फीसदी कर्मचारियों के साथ काम करने का आदेश दिया। इसके साथ ही उन्‍होंने आला अधिकारियों को सर्तकता बरतने में सोशल डिस्टेंसिंग सहित कोविड प्रोटोकॉल का पूरा पालन संग ऑफिसों में अलग-अलग शिफ्ट में काम कराने के आदेश दिए हैं।

ग्रामीण क्षेत्रों में 59 हजार और नगरीय क्षेत्रों में 14 हजार निगरानी समितियां
प्रदेश में पब्लिक एड्रेस सिस्टम की ओर से व्यापक स्तर पर कोविड-19 से बचाव के बारे में लोगों को लगातार जागरूक किया जा रहा है। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्रों में 59 हजार और नगरीय क्षेत्रों में 14 हजार निगरानी समितियां चल रही हैं। सीएम ने लखनऊ, गौतमबुद्ध नगर, आगरा गोरखपुर, मेरठ, वाराणसी में टीकाकरण तेज किए जाने के निर्देश भी दिए। उन्‍होंने कहा कि कोविड-19 की प्रभावी रोकथाम के लिए टेस्ट, ट्रेस, ट्रीट’ के मंत्र के अनुरूप कार्यवाही की जाए। प्रदेश में कोविड-19 की जांच की सुविधा सरकारी क्षेत्र की 125 और निजी क्षेत्र की 104 लैब हैं।