‘वह मुझे मारना चाहते हैं, लेकिन मौत से मैं डरती नहीं’…ममता का शाह पर आरोप

0
5

कोलकाता
पश्चिम बंगाल में बीजेपी और टीएमसी के बीच चुनावी घमासान बढ़ता जा रहा है। दोनों पार्टियां एक दूसरे पर आरोप लगा रही हैं। बीते दिनों ममता बनर्जी ने उनके ऊपर हमले का आरोप लगाया था। अब एक रैली में पहुंचीं ममता बनर्जी ने कहा है कि गृहमंत्री उन्हें मारना चाहते हैं।

बंगाल में आयोजित टीएमसी की रैली में ममता बनर्जी ने अमित शाह पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘तुमने मुझे घायल किया। मुझे मरा हुआ देखना चाहते थे लेकिन मैं डरी नहीं।’

इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया था कि एक राजनीतिक दल सियासी लाभ उठाने के मकसद से उन्हें मारने की साजिश रच रहा है। हालांकि उन्होंने इस सन्दर्भ में कोई नाम नहीं लिया। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि उनके काम करने का तरीका है कि पहले व्यक्ति का चरित्र हनन किया जाए और फिर व्यक्ति को ही हटा दिया जाए।

ममता ने कहा डरती नहीं
ममता बनर्जी ने कहा था, ‘किंतु मैं मौत से नहीं डरती…मुझे मारने के लिए पहले भी साजिश रची गई थी।’ उन्होंने बांग्ला टीवी चैनल जी 24 घंटा को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘मैं जानती हूं कि एक राजनीतिक दल द्वारा मुझे मारने के लिए साजिश रची जा रही है। उसने इस मकसद के लिए सुपारी भी दी है। भाड़े के हत्यारों को पेशगी भी दी जा चुकी है और मेरे आवास की टोह भी ली गई है।’

2017 में भी लगाया था आरोप
इससे पहले साल 2017 के अक्टूबर महीने में ममता बनर्जी की हत्या के लिए 65 लाख रुपये की सुपारी दी गई थी। मुर्शिदाबाद जिले के बेरहमपुर का रहने वाले एक छात्र को व्हाट्सऐप पर मिला था। मैसेज मिलते ही छात्र ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। इस वाकये के बाद सीएम ममता की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। मैसेज अमेरिका के फ्लोरिडा में रह रहे एक पॉलिटेक्निक स्टूडेंट के फोन नंबर से भेजा गया था।

2016 में भी बताया था जान को खतरा
वहीं, 2016 के विधानसाभ चुनावों से पहने ममता बनर्जी ने अपनी जान को भी खतरा बताया था। उन्होंने कहा था कि वाम मोर्चा, कांग्रेस और बीजेपी चुनाव के समय एक हो गए हैं और उनको जान से मारने की कोशिश करवा सकते हैं। उन्होंने कहा था कि दिल्ली में राहुल गांधी और सीताराम येचुरी मिलकर उनके खिलाफ षड्यंत्र रच रहे हैं।