बिहार : सदन में तेजस्वी बोले- ‘ऐसा कोई सगा नहीं, जिसको नीतीश जी ने ठगा नहीं…थाली खींचने वाले से BJP रहे सावधान’

0
57

पटना
बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सरकार पर ताबड़तोड़ हमले किए। उन्होंने कहा कि ऐसा कोई सगा नहीं जिसको मुख्यमंत्री मंत्री जी ने ठगा न हो। इसके बाद जॉर्ज फर्नांडिस का तेजस्वी ने नाम लिया। टोकाटोकी बढ़ी तो बात को ‘थाली’ तक पहुंचा दी।

तेजस्वी के निशाने पर बीजेपी और जेडीयू
बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश और बीजेपी दोनों को एकसाथ निशाने पर रखा। तेजस्वी यादव ने कहा कि ऐसा कोई सगा नहीं जिसको मुख्यमंत्री मंत्री जी ने ठगा न हो। इसके बाद बात जॉर्ज फर्नांडिस तक पहुंची। टोकाटोकी बढ़ी तो तेजस्वी ने बीजेपी सदस्यों को भी लपेटे में ले लिया। उन्होंने कहा कि जो आपलोग बैठे हैं बगल में, थाली किसका खींचा था, मेरा तो थाली नहीं खींचा गया था। नाम मत दिलवाइए, हम तो बहुत लोगों का नाम ले सकते हैं मगर लेना नहीं चाहेंगे महोदय।

स्पीकर ने तेजस्वी को दिखाया आइना
तेजस्वी ने कहा कि सबलोग जान रहे हैं महोदय (स्पीकर विजय सिन्हा) आप तो खुद भुक्तभोगी रह चुके हैं। इसके बाद आरजेडी सदस्यों ने सदन में जोर का ठहाका लगाया। मेज को भी थपथपाया। तेजस्वी ने कहा कि अभी आप (विजय सिन्हा) आसन पर हैं। इसके बाद स्पीकर विजय सिन्हा से रहा नहीं गया तो उन्होंने कहा कि आप अपना अनुभव शेयर कीजिए, हमारा अनुभव कहां से शेयर करने लगे। स्पीकर ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष अगर आप मेरा अनुभव शेयर करना चाहते हैं तो आत्मनिर्भर बिहार और 21वीं सदी के बिहार और भारत के लिए क्या विजन है पॉजिटिव, कुछ उस पर प्रकाश डाल दीजिए।

साल 2010 में क्या हुआ था?
दरअसल साल 2010 में नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री थे और नरेंद्र मोदी गुजरात के। कोसी नदी में भयंकर बाढ़ आई हुई थी। पटना में बीजेपी का कार्यक्रम था। शाम में 1 अणे मार्ग (मुख्यमंत्री निवास) पर डिनर आयोजित था, उसमें नरेंद्र मोदी को भी शामिल होना था। तब नीतीश कुमार ने अचानक डिनर कैंसिल कर दिया था। यही नहीं, गुजरात सीएम का दिया हुआ 5 करोड़ रुपयों का रिलीफ फंड चेक भी वापस कर दिया था। तब बीजेपी नीतीश कुमार के साथ सत्ता में साझीदार थी। सदन में तेजस्वी यादव उसी का जिक्र कर रहे थे।