बंगाल में PM की ताबड़तोड़ 20 रैलियां, TMC का तंज – जितनी बार चाहें आएं, UP-MP से…

0
32

कोलकातापश्चिम बंगाल () की सत्‍ता साधने के प्रयास में जुटी भारतीय जनता पार्टी ने अपने सभी स्‍टार प्रचारकों को चुनाव प्रचार में उतार दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र अकेले अगले दो महीनों के भीतर बंगाल में 20 बड़ी रैलियां करने जा रहे हैं। इन रैलियों के जरिये बीजेपी की कोशिश राज्‍य की एक बड़ी आबादी तक अपनी पहुंच बनाने की है। पीएम की इन रैलियों पर सत्‍तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने पलटवार किया है। टीएमसी का कहना है कि पीएम मोदी बंगाल में 20 या इससे भी ज्‍यादा बार आने के स्‍वतंत्र हैं।

ममता सरकार के मंत्री और टीएमसी प्रवक्‍ता ब्रत्य बसु ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री यहां आकर तृणमूल कांग्रेस के शासन में हुए विकास को देखें और उनकी तुलना बीजेपी शासित राज्यों के साथ करें। मोदी जितनी बार चाहें उतनी बार, 20 या उससे भी अधिक बार बैठकें करने आना चाहें तो उनका स्वागत हैं। वे यहां आ कर देखें कि कैसे बंगाल ने विकास के पैमाने पर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश को पीछे छोड़ दिया है।

‘मोदी खुद देखना चाह रहे बंगाल की प्रगति’
कहा जा रहा है कि बंगाल में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव होने से बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं को यहां के विभिन्न इलाकों में कई बार सभा करने का मौका मिल जाएगा। इस पर बसु ने कहा, ‘हमें परवाह नहीं है। हो सकता है कि वे (नरेंद्र मोदी और अमित शाह) खुद ही देखना चाहते हों कि 2011 में तृणमूल के सत्ता में आने के बाद बंगाल ने कितनी प्रगति की है…. सड़कें कैसी दिखती हैं, बिजली कटौती अब कभी-कभार की बात हो गई है, कैसे ग्रामीण इलाके के लोगों को बेहतर सुविधाएं मिल रही हैं और किस प्रकार से उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश जैसे राज्य पीछे रह गए हैं।’इससे पहले, बसु की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने मशहूर अभिनेता स्यांतिक बंदोपाध्याय के पार्टी में शामिल होने की घोषणा की।

मोदी, योगी और शाह करेंगे कई रैलियां
बीजेपी के सूत्रों ने बताया कि एक माह से ज्यादा वक्त तक चलने वाले आठ चरण के चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री का कई रैलियों को संबोधित करने का कार्यक्रम हैं। उनके अलावा गृह मंत्री अमित शाह, पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अन्य नेताओं का भी अनेक सभाएं करने का कार्यक्रम है।