ठंड गई अब रात में भी बेचैन कर देगी गर्मी, पढ़िए मौसम विभाग ने क्या की भविष्यवाणी

0
14

नई दिल्लीअभी मार्च शुरू ही हुआ है, लेकिन बढ़े तापमान का असर दिखाई देने लगा है। आने वाले महीनों में देश के ज्यादातर हिस्सों में का प्रकोप पहले से ज्यादा देखने को मिलेगा। उत्तर भारत समेत देश के ज्यादातर हिस्सों में इस साल सामान्य से ज्यादा गर्मी पड़ने का अनुमान विभाग ने जताया है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सोमवार को मार्च से मई तक के अपने ग्रीष्मकालीन पूर्वानुमान में कहा कि उत्तर, पूर्वोत्तर भारत तथा पूर्व एवं पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों में दिन का तापामान सामान्य से अधिक रहने की संभावना है। लेकिन उसने दक्षिण एवं उससे सटे मध्य भारत में दिन का तापमान सामान्य से कम रहने की संभावना जताई है।

मौसम विभाग ने कहा, ‘आगामी ग्रीष्मकाल में (मार्च से मई तक)उत्तर, पश्चिमोत्तर और पूर्वोत्तर भारत के अधिकतर उपसंभागों तथा मध्य भारत के पूर्वी एवं पश्चिमी भागों के कुछ उपसंभागों एवं उत्तरी प्रायद्वीप के तटीय उपसंभागों में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने की संभावना है।’

मौसम विभाग के अनुसार, दक्षिण प्रायद्वीप एवं समीपवर्ती मध्यभारत के अधिकतम उपसंभागों में अधिकतम तापमान सामान्य से कम रहने की संभावना है। मौसम विभागने बताया कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, ईस्ट यूपी, वेस्ट यूपी, बिहार, झारखंड छत्तीसगढ़ और ओडिशा में समान्य से ज्यादा तापमान रहने की उम्मीद है। इन इलाकों गर्म-दिनों के साथ-साथ रातें भी काफी गर्म होंगी।

कोंकण और गोवा इलाके में मार्च से मई के बीच न्यूनतम और अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने का अनुमान है। मौसम विभाग के अनुसार पूरे उत्तर और मध्य भारत में सोमवार यानी 1 मार्च का तापमान सामान्य से 3-6 से डिग्री तक अधिक है।