1,500 रैलियां, सीनियर नेताओं की फौज…’दीदी’ का किला जीतने के लिए बीजेपी की तैयारी

0
17

नई दिल्ली
पश्चिम बंगाल में इतिहास रचने की कोशिश में ने सीनियर नेताओं की पूरी फौज तैनात की है। 8 चरणों में चुनाव कराने का बीजेपी ने स्वागत किया है। बीजेपी के प्रदेश प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने चुनाव आयोग से मांग की कि चुनाव रक्तरंजित ना हों इसलिए असामाजिक तत्वों और लिस्टेड तस्करों को लॉकअप में बंद करें। अगर वे बाहर रहे तो शांतिपूर्ण चुनाव नहीं हो सकते।

बीजेपी नेता ने मांग की कि अतिरिक्त सुरक्षा बल के साथ अतिरिक्त अधिकारियों की भी नियुक्ति हो ताकि वह जिले में नजर रख सकें और लोग निर्भीक होकर मतदान कर सकें। बीजेपी शुरू से राज्य की कानून व्यवस्था को मुद्दा बना रही है और बीजेपी नेता राज्य की मशीनरी को ममता बैनर्जी या की मशीनरी कह रहे हैं। बीजेपी प्रचार के दौरान भी इसे मुद्दा बना रही है। बीजेपी के एक नेता के मुताबिक पश्चिम बंगाल में जिस तरह से राजनीतिक हिंसा होती रही है, उससे निपटने के लिए कार्यकर्ताओं को तैयार किया गया है, उनका मनोबल ऊंचा है और वह किसी से डरने वाले नहीं हैं।

बीजेपी के लिए पश्चिम बंगाल का यह चुनाव करो या मरो वाली स्थिति का है। बीजेपी के एक नेता के मुताबिक इस वक्त बीजेपी के पक्ष में माहौल है, लोग बदलाव चाहते हैं, इसलिए हम जरा भी ढीले नहीं पड़ सकते। उन्होंने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व की तरफ से कहा गया है कि कम से कम 1500 छोटी-बड़ी रैलियां करना हैं ताकि हर वोटर तक पहुंचा जा सके। इसके अलावा हर विधानसभा क्षेत्र के हर पोलिंग बूथ में वॉट्सऐप ग्रुप के जरिए वोटरों के संपर्क में रहने को कहा गया है।

घर घर जाकर पीएम नरेंद्र मोदी का जनता को नाम पत्र बांटा जा रहा है। शुक्रवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की रैली हुई और अब यूपी सीएम आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी सहित पार्टी के कई अहम चेहरों की कई रैलियां प्लान की गई हैं। पूरे चुनाव को सुपरवाइज करने के लिए 22 सीनियर नेताओं को तैनात किया गया है जो अलग अलग विधानसभा क्षेत्र की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।