चुनाव आयोग से मिले BJP नेता, ममता सरकार पर जताई सरकारी सिस्‍टम के दुरुपयोग की आशंका

0
34

नई दिल्‍ली/कोलकाता पश्चिम बंगाल में जल्‍द होने जा रहे विधानसभा चुनाव की गहमागहमी के बीच बीजेपी को वहां सरकार सिस्‍टम के दुरुपयोग की आशंका सता रही है। शुक्रवार को बीजेपी के एक प्रतिनिधिमंडल ने अपनी मांगों के साथ चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने उनसे गुजारिश की कि पश्चिम बंगाल में चुनावों के दौरान सुरक्षा बलों की तैनाती का अंतिम अधिकार केंद्रीय पर्यवेक्षकों को हो। बीजेपी ने पश्चिम बंगाल पुलिस और प्रशासन के गैर-राजनीतिक और निष्पक्ष न होने का आरोप लगाते हुए ये मांगें की हैं।

इस मौके पर राज्यसभा सदस्य और बीजेपी नेता स्वपन दासगुप्ता ने कहा कि प्रतिनिधिमंडल ने दिव्यांग और 80 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को डाक मतपत्र से वोट देने संबंधी प्रावधान के दुरुपयोग को लेकर चिंता जताई। ऐसे लोगों के लिए मतदान केंद्रों पर विशेष व्यवस्था किए जाने की मांग की गइई। बता दें कि चुनाव आयोग पिछले साल कोरोना महामारी के मद्देनजर पहले भी इस तरह की व्यवस्था कर चुका है।

ये नेता शामिल रहे प्रतिनिध‍िमंडल में
पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए दासगुप्ता ने कहा कि पक्षपातपूर्ण राज्य प्रशासन इन प्रावधानों का दुरुपयोग कर सकता है। बीजेपी के इस प्रतिनिधिमंडल में दासगुप्ता के अलावा पार्टी महासचिव भूपेंद्र यादवऔर प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष सहित कुछ अन्य नेता शामिल थे। पश्चिम बंगाल में इस साल अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं।