‘सिंघु बॉर्डर खाली करो…’ नारेबाजी से माहौल गर्म, पुलिस-किसानों से स्थानीय लोगों की झड़प

0
33

नई दिल्ली
हरियाणा से लगते दिल्ली के () पर जमे प्रदर्शनकारी किसानों को हटाने के लिए शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन लोग पहुंचे हैं। नारेबाजी करते हुए किसानों से सिंघु बॉर्डर खाली कराने की मांग के साथ पहुंचे लोगों ने खुद को स्थानीय नागरिक बताया। इस दौरान वहां झड़प और लाठीचार्ज की जानकारी भी मिली है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सिंघु बॉर्डर पहुंचे लोगों ने खुद को नरेला और बवाना इलाके का बताया है। लोगों ने पत्थरबाजी करनी शुरू कर दी है। प्रदर्शनकारियों की तरफ से पुलिस लाइन के पीछे से आंदोलनकारी किसानों की तरफ पत्थर फेंके गए। किसान गुट और लोगों के बीच पत्थरबाजी हुई।

पुलिस ने स्थानीय लोगों को समझाने की कोशिश की, लेकिन वे नहीं माने। पुलिस ने जबर्दस्त लाठीचार्ज शुरू किया। आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए। इस दौरान कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। सिंघु बॉर्डर पर भगदड़ का माहौल बन गया है। इस दौरान एक प्रदर्शनकारी की तरफ से एसएचओ पर तलवार से हमला भी किए जाने की जानकारी मिली है।

‘तिरंगे का अपमान, नहीं सहेगा हिंदुस्‍तान’ और ‘सिंघु बॉर्डर खाली करो’ का नारा लगाते कुछ लोग शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन सिंघु बॉर्डर पहुंचे। उनके हाथों में तिरंगा झंडे के साथ ही यही नारा लिखे हुए बैनर भी थे। किसान पिछले दो महीने से भी ज्‍यादा वक्‍त से सिंघु बॉर्डर समेत दिल्‍ली की अलग-अलग सीमाओं पर डटे हुए हैं।