अंडमान-निकोबार कमांड का युवा जोश पहली बार गणतंत्र दिवस की परेड में होगा शामिल

0
31

नई दिल्ली
इस बार में पहली बार इंडियन आर्म्ड फोर्स की अंडमान निकोबार कमांड का मार्चिंग दस्ता भी परेड में शामिल होगा। यह कमांड ट्राई सर्विस (तीनों फोर्स ) कमांड है। इस कमांड के तहत आने वाली मद्रास रेजिमेंट की एक टीए (टेरिटोरियल आर्मी) बटालियन राजपथ पर उतरेगी।

इंडियन आर्मी के मद्रास रेजिमेंट की यह बटालियन जब राजपथ पर परेड करेगी तो यह एक इतिहास भी बनाएगी। परेड में हिस्सा लेने वाली यह सबसे यंग बटालियन होगी। मद्रास रोजिमेंट की 172 इंफेंट्री बटालियन (टीए) 1 मई 2017 में बनी और अब यह गणतंत्र दिवस परेड में टेरिटोरियल आर्मी का प्रतिनिधित्व कर रही है।

इस बटालियन में ज्यादातर युवा अंडमान-निकोबार के ही भर्ती किए गए हैं। स्थानीय युवाओं की भर्ती का मकसद यह होता है कि उन्हें प्रतिनिधित्व मिल सके साथ ही लोकल इंटेलिजेंस भी ज्यादा मजबूत होता है। पहली बार अंडमान-निकोबार आइलैंड से निकलकर युवा राजपथ पर मार्च करेंगे।

गणतंत्र दिवस परेड में इस बार कुल 18 दस्ते होंगे, जिसमें 16 मार्चिंग दस्ते हैं। 61 कैवलरी का दस्ता घोड़े पर सवार होगा और बीएसएफ का दस्ता ऊंट पर सवार होकर राजपथ पर निकलेगा। कुल 36 बैंड परेड का हिस्सा होंगे जिसमें 15 मिलिट्री बैंड हैं।