सैफ अली की वेब सीरीज पर कैसा ‘तांडव’, राजनीति पर बनी फिल्म तो बैन की मांग क्यों

0
52

नई दिल्ली
ऐक्टर सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया, सुनील ग्रोवर, तिग्मांशु धूलिया जैसे दिग्गज कलाकारों की चर्चित वेब सीरीज ‘तांडव’ रिलीज होते ही विवादों में घिर गई है। मामला ने इतना तूल पकड़ा कि अब सरकार को भी दखल देना पड़ा है। यह सीरीज स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम वीडियो पर रिलीज हुई है। ऐसे में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने तमाम शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए ऐमजॉन प्राइम से इस पर जवाब मांगा है। ट्विटर पर #tandavban ट्रेंड करने लगा है। लोग इसे बैन करने की मांग करने लगे हैं। आइए समझते हैं कि आखिर इस वेब सीरीज पर कैसा ‘तांडव’ मचा है।

क्या है विवाद
दरअसल, वेब सीरीज ‘तांडव’ को देखने के बाद आरोप लगाया गया है कि इसमें हिंदू देवी-देवताओं का उपहास किया गया है। भाजपा सांसद मनोज कोटक ने रविवार को कहा कि उन्होंने सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर ऐमजॉन प्राइम वीडियो की वेब सीरीज ‘तांडव’ पर रोक लगाने का अनुरोध किया है।

बीजेपी सांसद बोले, माफी मांगें निर्माता निर्देशक
मुंबई उत्तर-पूर्व से भाजपा सांसद कोटक ने आरोप लगाया है कि ऐसे मंचों पर अक्सर हिंदू देवी-देवताओं को गलत तरीके से दिखाने का प्रयास किया जाता है। उन्होंने कहा कि विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों ने शिकायत की है कि ‘तांडव’ वेब सीरीज में हिंदू देवी-देवताओं का उपहास किया गया है। कोटक ने कहा है कि अभिनेताओं, निर्माता और निर्देशक को भावनाओं को आहत करने के लिए माफी मांगनी चाहिए।

उन्होंने जावड़ेकर को लिखे पत्र की तस्वीर ट्विटर पर साझा करते हुए कहा कि कोई कानून या स्वायत्त निकाय नहीं है जो डिजिटल सामग्री को नियंत्रित करे और ऐसे प्लेटफार्मों पर फिल्में सेक्स, हिंसा, मादक पदार्थ दुर्व्यवहार, घृणा और अश्लीलता से भरी हुई होती हैं। सांसद ने कहा, ‘कभी-कभी, वे धार्मिक भावनाओं को भी चोट पहुंचाती हैं।’

कोटक ने 16 जनवरी को लिखे पत्र में कहा कि ऐसा लगता है कि ‘तांडव’ के निर्माताओं ने जानबूझकर हिंदू देवताओं का मजाक उड़ाया है और हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं का अपमान किया है। एक अन्य नेता एवं घाटकोपर पश्चिम से भाजपा विधायक राम कदम ने भी निर्देशक से वेब सीरीज के उस हिस्से को हटाने के लिए कहा जिसमें भगवान शिव का कथित रूप से उपहास किया गया है।

विधायक ने कहा कि उन्होंने इस संबंध में उपनगरीय घाटकोपर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है। शिकायतों के बारे में संपर्क किए जाने पर अमेजन प्राइम वीडियो पीआर ने कहा है कि प्लेटफॉर्म मामले पर प्रतिक्रिया नहीं देगा।

कौन-कौन है इस सीरीज में
सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया, सुनील ग्रोवर, तिग्मांशु धूलिया, डिनो मोरिया, कुमुद मिश्रा, मोहम्मद जीशान अय्यूब, गौहर खान और कृतिका कामरा अभिनीत तांडव का पिछले शुक्रवार को स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर प्रीमियर हुआ। फिल्मकार अली अब्बास ज़फर ने हिमांशु किशन मेहरा के साथ मिलकर राजनीति पर आधारित इस फिल्म का निर्माण एवं निर्देशन किया है। इसे गौरव सोलंकी ने लिखा है, जो ‘अनुच्छेद 15’ के लिए जाने जाते हैं।

सरकार का रुख
सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के एक सूत्र ने कहा, ‘मंत्रालय ने मामले (शिकायतों) का संज्ञान लिया है और ऐमजॉन प्राइम वीडियो से स्पष्टीकरण देने को कहा है।’

लखनऊ में दर्ज हुई FIR
इस बीच, तांडव वेब सीरीज को लेकर हजरतगंज कोतवाली में सब इंस्पेक्टर ने 4 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इनमें ऐमजॉन प्राइम की इंडिया हेड अपर्णा पुरोहित और वेब सीरीज के निर्माता, निर्देशक और लेखक का नाम शामिल है। समाज में विद्वेष और अशांति फैलाने जैसी तमाम धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है।

सोशल मीडिया पर भी गुस्साट्विटर पर #tandavban ट्रेंड कर रहा है। कुछ लोग फिल्म में हिंदू-मुस्लिम कलाकारों और अन्य को लेकर धार्मिक ऐंगल की भी बात कर रहे हैं। कुछ लोगों ने लिखा कि हिंदुओं को लेकर कुछ भी कह देना आसान है। कुछ लोगों तांडव सीरीज को लेकर सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर पर भी निशाना साधा है। उनकी मांग है कि केंद्रीय मंत्री को फौरन इस पर ऐक्शन लेना चाहिए। कई यूजर्स ने सवाल किया है कि हर बार हिंदू देवी-देवताओं का ही मजाक क्यों बनाया जाता है। कुछ लोग वेब सीरीज से जीशान अय्यूब के किरदार की तस्वीर भी शेयर कर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं।