आर्मी डेः अपनी सेना की ताकत देखिए, आप को गर्व और चीन-पाक को टेंशन देंगी ये तस्वीरें

0
8

इंडियन आर्मी आज अपना 73वां आर्मी डे सेलिब्रेट कर रही है। इस मौके पर दुनिया ने एक बार फिर से भारतीय सेना की ताकत देखी। आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे ने अपने संबोधन में चीन और पाकिस्तान दोनों को सख्त चेतावनी दी। आर्मी डे परेड 2021 में भारतीय सेना ने अपने बेहतरीन टैंकों का प्रदर्शन किया। आर्मी डे पर शुक्रवार को पहली बार इंडियन आर्मी ने ड्रोन अटैक का नजारा पेश किया।
Army Day Parade: इंडियन आर्मी आज अपना 73वां आर्मी डे सेलिब्रेट कर रही है। इस मौके पर भारतीय सेना ने एक बार फिर दुनिया को अपनी ताकत दिखाई और भारतीय सीमा पर बुरी नजर रखने वालों को चेताया।
इंडियन आर्मी आज अपना 73वां आर्मी डे सेलिब्रेट कर रही है। इस मौके पर दुनिया ने एक बार फिर से भारतीय सेना की ताकत देखी। आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे ने अपने संबोधन में चीन और पाकिस्तान दोनों को सख्त चेतावनी दी। आर्मी डे परेड 2021 में भारतीय सेना ने अपने बेहतरीन टैंकों का प्रदर्शन किया। आर्मी डे पर शुक्रवार को पहली बार इंडियन आर्मी ने ड्रोन अटैक का नजारा पेश किया।
पिनाक मल्टी बैरल रॉकेट लॉन्चर73वें आर्मी डे परेड के दौरान पिनाक मल्टी बैरल रॉकेट लॉन्चर का भी मार्च पास्ट कराया गया। यह लॉन्‍चर सिर्फ 44 सेकेंड्स में 12 रॉकेट्स दाग सकता है। भगवान शिव के धनुष ‘पिनाक’ के नाम पर डेवलप किए गए इस मिसाइल सिस्‍टम को भारत और पाकिस्‍तान से लगी सीमाओं पर तैनात करने के मकसद से बनाया गया है।

#WATCH | For the first time ever, Indian Army demonstrates combat swarm drones at #ArmyDay parade 2021 in Delhi. https://t.co/F12rfo4emN— ANI (@ANI) 1610692198000

आर्मी डे पर दिखा किस तरह मिलकर अटैक कर सकते हैं ड्रोनआर्मी डे पर शुक्रवार को पहली बार इंडियन आर्मी ने ड्रोन अटैक का नजारा पेश किया। आर्मी डे परेड के दौरान दिखाया कि किस तरह ड्रोन बिना किसी मानवीय हस्तक्षेप के दुश्मन के ठिकानों को सटीक निशाना बना सकते हैं। कई ड्रोन के मिलकर एक मिशन को अंजाम देने के इस सिस्टम को ड्रोन स्वॉर्मिंग कहते हैं। यह नई टेक्नॉलजी भविष्य में युद्ध के पूरे सीन को ही बदलने की क्षमता रखती है और नो कॉन्टेक्ट वॉरफेयर यानी बिना कॉनटेक्ट से युद्ध में यह बेहद अहम साबित होगी। ड्रोन स्वॉर्मिंग की पूरी खासियत जानने के लिए
यहां क्लिक करें…
टी-90 टैंक73वें आर्मी डे परेड में इंंडियन आर्मी ने टी-90 टैंकों का भी मार्च पास्ट कराया और दुनिया को अपनी ताकत दिखाई।
लद्दाख जैसे दुर्गम इलाकों में तैनात है टी-90 टैंकटी-90 टैंकों को पूर्वी लद्दाख के जैसे दुर्गम इलाकों में पहुंचा दिया गया है, वैसे इलाकों में दुनिया का कोई देश टैंक तैनात नहीं कर सका है। ये माइनस 40 डिग्री तापमान में भी आसानी से काम कर सकते हैं। यानी लद्दाख की बर्फीली वादियों में अगर चीनी सेना ने कोई गुस्‍ताखी तो ये टैंक आग उगलना शुरू कर देंगे।
भारत में इन टैंकों को ‘भीष्‍म’ नाम दिया गयाभारत ने लद्दाख में जिन T-90 टैंकों की तैनाती की हैं, वे मूल रूस से रूस में बने हैं। भारत टैंकों का तीसरा सबसे बड़ा ऑपरेटर है। उसके बेड़े में करीब साढ़े 4 हजार टैंक (T-90 और उसके वैरियंट्स, T-72 और अर्जुन) हैं। भारत में इन टैंकों को ‘भीष्‍म’ नाम दिया गया है। इनमें 125mm की गन लगती होती है।
गलवान के जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगीआर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे ने चीन और पाकिस्तान को सख्त संदेश दिया। उन्होंने कहा कि गलवान घाटी में हमारे सैनिकों का दिया बलिदान कभी व्यर्थ नहीं जाएगा। वहीं, पाकिस्तान पर बोलते हुए कहा कि पाक कभी अपनी नापाक हरकतों में कामयाब नहीं हो पाएगा।
ड्रैगन को कड़ी चेतावनी, हमारे धैर्य की परीक्षा मत लोइंडियन आर्मी चीफ जनरल एम एम नरवणे ने चीन को चेतावनी की कि वह हमारे धैर्य की परीक्षा लेने की गलती ना करे। आर्मी डे परेड में अपने संबोधन में जनरल नरवणे ने चीन के साथ लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर तनाव का जिक्र करते हुए कहा कि हम बातचीत के जरिए समाधान के प्रति प्रतिबद्ध हैं लेकिन कोई भी हमारे धैर्य की परीक्षा लेने की गलती ना करें।
बच्ची ने किया सेना के शौर्य को सलाम73वीं आर्मी डे परेड के मौके पर एक छोटी सी बच्ची भी आर्मी की ड्रेस में वहां पहुंची थी। उसने देश के लिए जान गंवाने वाले वीर सपूतों को श्रद्धांजिल अर्पित की और सेना के अप्रतिम शौर्य को सलाम किया।
सैनिकों के कदमताल ने बढ़ाया जोशआर्मी डे परेड के दौरान भारतीय सेना की टुकड़ी ने भी मार्च पास्ट किया। सैनिकों की कदमताल के साथ जोश और जज्बा भी उसी रफ्तार से बढ़ता जा रहा था।