बिहार: तेजस्वी का नीतीश पर एक और वार- क्यों कुर्सी से चिपके हैं?

0
27

नीलकमल, पटना
बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि, नीतीश कुमार दिखावे के लिए कहते हैं कि उनकी इच्छा के बिना उन्हें ज़बरदस्ती मुख्यमंत्री बनाया गया। तेजस्वी यादव ने कहा, जब नीतीश कुमार जी से सरकार संभल नहीं रही तो क्यों ज़बरदस्ती मुख्यमंत्री पद से चिपके हुए हैं? उन्होंने कहा कि यह भी हास्यास्पद है कि, BJP जो खुद सरकार में है वह भी सरकार की आलोचना करती रहती है।

खत्म हो चुकी है नीतीश कुमार की कार्यक्षमता, इच्छाशक्ति और संवेदनशीलता : तेजस्वी यादव
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का कहना है कि, बिहार में लूट, अपहरण, बलात्कार, हत्या और अपराध की सुनामी आयी हुई है। मुख्यमंत्री नीतीश जी अब थक चुके हैं, शिथिल पड़ चुके हैं। उनकी कार्यक्षमता, इच्छाशक्ति ही नहीं संवेदनशीलता भी खत्म हो चुकी है। अगर कुछ खत्म नहीं हुआ है तो वह है बस उनकी कुर्सी से चिपके रहने की लालसा। तेजस्वी यादव ने कहा कि यह लालसा जीवनपर्यंत नीतीश कुमार के साथ रहेगी, चाहे पूरा सूबा ही उनकी सत्तालोलुपता की भेंट क्यों ना चढ़ जाए।

निर्लज्ज है बिहार की डबल इंजन की सरकार : तेजस्वी यादव
तेजस्वी यादव का कहना है, जब तक राज्य में सैकड़ों हत्या, सामूहिक बलात्कार, अपहरण, फिरौती, बेरोजगारों और नौजवानों पर लाठीचार्ज की वारदातें नहीं हो जाती हैं। तब तक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उनके दो-दो उपमुख्यमंत्रियों और भाजपा की इस निर्लज्ज डबल इंजन की सरकार को चैन की नींद नहीं आती है।
जनता द्वारा नकार दिए जाने के बावजूद भी भाजपा ने तीसरे पायदान पर फेंकी जा चुकी C ग्रेड की उगाहीबाज़ पार्टी के मजबूर नेता को मुख्यमंत्री इसीलिए बनाया ताकि अपराधियों का तांडव नाच जारी रहे। नीतीश कुमार अपमान और हार के बावजूद इसलिए सीएम बने ताकि उगाही और RCP टैक्स की वसूली का धंधा मन्दा ना होने पाए। नेता प्रतिपक्ष ने कहा, बीजेपी दो-दो उपमुख्यमंत्री बनाकर सत्ता की मलाई चाट रही है लेकिन वो भी बिना जिम्मेदारी के सरकार को ही कोसते रहते हैं।

तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी किया कटाक्ष
लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बिना नाम लिए कहा कि, बिहार चुनाव में स्वघोषित दिल्ली वाला बेटा कहाँ गया? तेजस्वी यादव ने यह भी कहा कि अब उन्हें रूपेश सिंह और अपहृत गुप्ता परिवार को आकर जवाब देना चाहिए कि उनकी डबल इंजन सरकार के दानवराज की भेंट और कितने बेटे, भाई, पिता और पति चढ़ेंगे? मधुबनी और मुजफ्फरपुर की बेटियों का सामुहिक बलात्कार कर जला दिया गया। क्या दिल्ली वाले भाषणकर्ता बेटे उन्हें जिंदा करेंगे? मधुबनी की बेटी की बलात्कार बाद आँखे फोड़ दी गई। क्या बिहार के चुनावी स्वघोषित बेटे उस बच्ची की आंखों की रोशनी बनेंगे?