भारत में वैक्सीन तो अभी आई नहीं फिर क्यों लग रहा कोरोना का ‘डमी टीका’, यहां समझिए

0
26

नई दिल्ली
कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर भारत समेत पूरी दुनिया में बेसब्री से इंतजार हो रहा है। कुछ देशों में वैक्सीन के इमर्जेंसी इस्तेमाल को मंजूरी भी मिल गई तो वहीं, अमेरिका में करीब 10 लाख लोगों को टीका लग चुका है। भारत में भी अगले महीने कोरोना टीके के इस्तेमाल को मंजूरी मिल सकती है। इस बीच 4 राज्यों (असम, आंध्र प्रदेश, पंजाब और गुजरात) में 28-29 दिसंबर को कोरोना वैक्सीन के लिए ड्राई रन पूरा कर लिया गया है।

ड्राई रन के दौरान लोगों को दिया गया ‘डमी टीका’
गुजरात के गांधीनगर और राजकोट जिलों में लगातार दूसरे दिन मंगलवार को भी टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया गया। इस दौरान ‘चिह्नित’ लाभार्थियों को शामिल किया गया लेकिन उन्हें वास्तविक टीका नहीं बल्कि डमी टीका दिया गया। दो दिन तक चलने वाले इस पूर्वाभ्यास में कोविड-19 के टीकाकरण के लिए जरूरी इंतजामों की समीक्षा की जा रही है और वास्तविक टीकाकरण शुरू करने से पहले किसी भी खामी को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है।

को -विन ऐप की मदद से किया गया पूर्वभ्यास
गांधीनगर के मुख्य जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमएच सोलंकी ने कहा, ‘हमें को-विन सॉफ्टवेयर से लाभार्थियों की सूची मिली है। पूर्वाभ्यास को लेकर टीका देने के लिए प्रशिक्षित कर्मियों को इन केंद्रों में बने विभिन्न कक्षों में नियुक्त किया गया है।’ एक लाभार्थी ने कहा कि प्रक्रिया बहुत सरल है और सब कुछ बहुत आसानी से हो गया।

लुधियाना में ‘ड्राई रन’ सफलतापूर्वक संपन्न
कोरोना वैक्सीनेशन के ड्राई रन के लिए पंजाब के दो जिलों लुधियाना और शहीद भगत सिंह नगर को चुना गया था। लुधियाना के सीएमओ ने बताया, ‘वैक्सीनेशन प्रक्रिया को सुचारू रूप से चलाने के लिए हमारे कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने के उद्देश्य से 7 केंद्रों पर ‘ड्राई रन’ आयोजित किया गया था। यह पूरी तरह से सफल रहा।’

187 दिन बाद कोरोना के दैनिक मामले सबसे कम
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि देश में 187 दिन बाद कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे कम नए दैनिक मामले सामने आए हैं, जिनकी संख्या 16,500 से भी कम है। मंत्रालय ने बताया कि भारत में 25 जून को महामारी के 16,922 मामले सामने आए थे, जबकि पिछले 24 घंटे में कुल 16,432 नए मामले सामने आए हैं। देश में इस समय ऐक्टिव केसों की कुल संख्या घटकर 2,68,581 रह गई है।

भारत में भी मिला कोरोना का नया स्ट्रेन
ब्रिटेन में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन से पीड़ित 6 लोग भारत में भी मिले हैं। ये सभी लोग ब्रिटेन से ही लौटे थे। सभी पीड़ितों को फिलहाल आइसोलेशन में रखा गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि बेंगलुरु के NIMHANS में ब्रिटेन से लौटे तीन लोगों का सैंपल टेस्ट किया गया था जिसमें ये नया स्ट्रेन मिला है। इसके अलावा दो लोगों का सैंपल सेंटर फॉर सैल्यूलर ऐंड मोलोकूलर बायोलॉजी, हैदराबाद में पॉजिटिव पाया गया।

(न्यूज एजेंसी एएनआई और भाषा से इनपुट्स के साथ)