योगी ने अयोध्या में विकास की गति तेज करने के दिए निर्देश, बोले- राम की जन्मस्थली में मिले हर सुविधा

0
39

लखनऊउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने में विकास कार्यों की गति तेज करने के शनिवार को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि भगवान राम की जन्मस्थली के महत्व को ध्यान में रखकर केन्द्र व राज्य सरकार उसे उसके प्राचीन गौरव के अनुरूप प्रतिष्ठित करने के लिए संकल्पबद्ध है। मुख्यमंत्री शनिवार को यहां लोक भवन में अयोध्या धाम के समेकित पर्यटन विकास संबंधी कार्यों के प्रस्तुतीकरण का अवलोकन कर रहे थे।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि अयोध्या नगरी का विकास इस प्रकार से किया जाए जिससे वहां पहुंचने वाले लोगों को स्तरीय सुविधाएं प्राप्त हो सकें। उन्होंने कहा कि अयोध्या में विकास कार्यों की गति तेज की जाए और यातायात की व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए सड़कों को चौड़ा किया जाए।

पढ़ें,

सीएम योगी ने कहा कि विभिन्न दिशाओं से अयोध्या पहुंचने वाले दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए सड़कों का प्रभावी और निर्बाध नेटवर्क तैयार किया जाए तथा सड़कों के दोनों ओर पेयजल, शौचालय जैसी जनसुविधाओं की अच्छी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि अपने वाहनों से आने वाले दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए विभिन्न स्थलों पर ‘मल्टी लेवल’ पार्किंग का निर्माण किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यटकों को अयोध्या धाम का भ्रमण कराने के लिए प्रशिक्षित गाइडों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए और भरत कुण्ड, सूर्य कुण्ड तथा नन्दी ग्राम का तेजी से विकास किया जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि चौरासी कोसी परिक्रमा मार्ग से संबंधित समस्त कार्य तेजी से कराए जाएं जिससे श्रद्धालुओं को परिक्रमा करने में किसी प्रकार की परेशानी न हो।

योगी ने कहा कि श्री मखौड़ा धाम, बस्ती में पर्यटन संबंधी सभी कार्य भी निर्धारित समयसीमा में पूरे किए जाएं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि अयोध्या का विकास ‘सोलर सिटी’ के रूप में किया जाए।