बीजेपी में जाने से पहले सुवेंदु अधिकारी का TMC कार्यकर्ताओं को भावुक खत, यहां सब मतलबी हैं…

0
86

कोलकाता
चीफ के करीबी ने शनिवार को का दामन थाम लिया। बुधवार को ही उन्होंने विधायकी से इस्तीफा दिया था और गुरुवार को पार्टी भी छोड़ दी थी। बीजेपी में शामिल होने से पहले उन्होंने टीएमसी कार्यकर्ताओं के नाम करीब 8 पेज का एक भावुक खत लिखा। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि यह लड़ाई पश्चिम बंगाल को उसका खोया हुआ गौरव लौटाने की है।

अधिकारी ने अपने पत्र में कहा, ‘टीएमसी इन दिनों ऐसे मतलबी लोगों से भरी है जिन्हें किसी और से कोई मतलब नहीं है।’ अधिकारी ने टीएमसी कार्यकर्ताओं से साथ आने की अपील की और कहा कि बंगाल को उसका खोया हुआ गौरव लौटाने की लड़ाई में वे उनका साथ दें। अधिकारी ने टीएमसी कार्यकर्ताओं से एक नई शुरुआत करने को कहा। अपने पत्र में उन्होंने लिखा कि टीएमसी इन दिनों बंगाली कल्चर के खिलाफ काम कर रही है और प्रशांत किशोर जैसे कर्मभोगियों पर हद से ज्यादा भरोसा कर रही है।

सुवेंदु अधिकारी के हमलों पर का पलटवार
हालांकि सुवेंदु के इस लेटर बम पर टीएमसी के बड़े नेताओं ने भी अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है। पूर्व मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता मदन मित्रा ने कहा, ‘मेरे सुनने में आया है सुवेंदु कह रहे हैं कि टीएमसी ने पिछले 10 सालों में कुछ नहीं किया। अगर ऐसा ही था तो वह 10 सालों से टीएमसी के साथ कर क्या रहे थे? तब चुप क्यों थे? यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। टीएमसी वर्कर्स के लिए तो आज शाम पार्टी होगी, क्योंकि अब हम वायरसमुक्त हो चुके हैं।’

बीजेपी में शामिल होकर बोले सुवेंदु, बंगाल को मोदी की जरूरतबता दें कि बीजेपी में शामिल होने वाले सुवेंदु अधिकारी ने सीधा हमला ममता बनर्जी सरकार पर बोला था। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल की आर्थिक स्थिति बहुत खराब है। यहां पिछले 10 सालों में विकास का कोई काम नहीं हुआ। इस सबसे राज्य को आजाद करना है, तो इसकी बागडोर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सौंपने की जरूरत है।