AAP के उपवास पर बोले अमरिंदर- सियासत के लिए केजरी ने बेची आत्मा, AK का पलटवार

0
9

नई दिल्ली
केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है। ऐसे में किसानों के आंदोलन के समर्थन को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह () और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई है। दोनों मुख्यमंत्रियों ने एक-दूसरे पर ट्विवटर के जरिए निशाना साधा है।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को ट्वीट करके कहा, ‘जैसा हर पंजाबी जानता है, मैं ईडी या अन्य मामलों से डरने वाला नहीं हूं, अरविंद केजरीवाल आप अपनी आत्मा बेच देंगे, अगर उससे आपके राजनीतिक उद्देश्यों की पूर्ति होती हो। अगर आपको लगता है कि किसानों को आप नौटंकी से अपने पाले में कर सकते हें तो आप पूरी तरह से गलत हैं।

अमरिंदर सिंह ने अरविंद केजरीवाल को ‘कायर’ करार दिया पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ‘कायर’ करार देते हुए कहा है कि वह शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के नेता से मानहानि मामले में डर गए थे और उन्हें माफी मांगनी पड़ी थी। इसके साथ ही सिंह ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि वह अपनी पार्टी की विफलता को छिपा रहे हैं और किसानों को साथ खड़े होने का ढोंग कर रहे हैं। पंजाब के मुख्यमंत्री ने केजरीवाल के उन आरोपों को भी खारिज किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि सिंह को ईडी का डर सता रहा है।

केजरीवाल के आरोपों को सिंह ने झूठा बताया केजरीवाल के आरोपों को झूठा करार देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बात तो हर पंजाबी जानता है कि वह किसी भी तरह की झूठे ईडी या अन्य मामलों से नहीं डरते हैं। सिंह ने कहा कि पूरी दुनिया ने देखा है कि कैसे केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी में काले कृषि कानूनों में से एक को अधिसूचित करके किसानों के हितों को बेच दिया है। उन्होंने कहा कि यह उस समय पर हुआ, जब किसान दिल्ली में मार्च करने की तैयारी कर रहे थे। अमरिंदर ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने तो खुद ही यह उजागर कर दिया है इस अधिनियम को लेकर उनकी केंद्र सरकार के साथ सेटिंग है। सिंह ने सवाल दागते हुए कहा कि आपने ऐसा क्यों किया केजरीवाल? केंद्र ने आप पर कौन सा दबाव डाला?’’ केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन पर जमकर राजनीति हो रही है।

पंजाब सीएम पर केजरी ‘वार’उधर, कैप्टन अमरिंदर पर पलटवार करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि आप उस समिति का हिस्सा थे जिसने इन विधेयकों का मसौदा तैयार किया था। ये बिल राष्ट्र के लिए आपका उपहार है। कैप्टन साहब बीजेपी के नेता आप पर दोहरे मापदंड का आरोप कभी नहीं लगाते जिस तरह से वे अन्य सभी नेताओं पर आरोप लगाते हैं?।

अमरिंदर ने उपवास की घोषणा को नाटक बताया
एक दिन पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अरविंद केजरीवाल की ओर से किसानों के समर्थन में सोमवार को उपवास रखने की घोषणा को “नाटक” बताया था। सिंह ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने 23 नवंबर को कृषि कानूनों में से एक को “बेशर्मी” से अधिसूचित कर किसानों की ‘पीठ में छुरा भोंका है।