किसानों का भारत बंद, केंद्र सरकार ने जारी की एडवाइजरी, 10 पॉइंट में जान लें बड़ी बातें

0
25

नई दिल्ली
नए कृषि कानून के विरोध में किसान लगातार आंदोलन कर रहे हैं। किसान नेताओं और सरकार के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकला। अब किसानों ने मंगलवार को बुलाया है। किसान नेताओं ने इस दौरान लोगों को किसी भी प्रकार की दिक्कतें होने का दावा किया है। किसानों ने मंगलवार को सुबह 11 बजे से 3 बजे तक भारत बंद () बुलाया है वहीं केंद्र सरकार ने इसके लिए एडवाइजरी जारी की है।

किसान आंदोलन से लेकर भारत बंद तक 10 पॉइंट में समझिए सबकुछ

1- नए कृषि कानून के विरोध में आंदोलनरत किसानों ने मंगलवार को भारत बंद बुलाया है। इस मामले में केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा है कि ‘भारत बंद’ के दौरान सुरक्षा कड़ी की जाए और साथ ही शांति सुनिश्चित की जाए। यह जानकारी अधिकारियों ने दी।

2- किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि जैसा पब्लिक सपोर्ट मिल रहा है चार घंटों के संपूर्ण बंद में सफलता की उम्मीद है। आम जनता ड्यूटी के लिए 10 बजे से पहले ऑफिस जा सकती है। जो जहां संभव हो वहां बंद करे, लोग अपना गांव अपनी सड़क के तहत NH पर बैठें। दुकानदार लंच के बाद दुकानें खोलें।

3- दिल्ली की आजादपुर मंडी भी मंगलवार को बंद रहेगी। मंडी के चेयरमैन आदिल अहमद खान ने कहा कि किसानों के भारत बंद का हम समर्थन करते हैं। हो सकता है मंडी के बंद होने से दिल्ली में कल सब्जियों के दाम बढ़ जाएं और सब्जी मिलने में भी परेशानी हो सकती है।

4- व्यापारियों के संगठन कनफेडेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) और ट्रांसपोर्टरों के संगठन ऑल इंडिया ट्रांसपोर्टर्स वेलफेयर एसोसियेसन (एआईटीडब्ल्यूए) ने किसान संगठनों द्वारा मंगलवार को बुलाये गये ‘भारत बंद’ से अलग रहने की घोषणा की है। कैट ने सोमवार को कहा कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ मंगलवार को किसानों के ‘भारत बंद’ के दौरान दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में बाजार खुले रहेंगे।

5- लुधियाना से चरणजीत सिंह लोहारा (प्रधान पंजाब ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन) ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने किसानों के समर्थन में 8 दिसंबर को चक्का जाम करने का फैसला किया है। परिवहन संघ, ट्रक यूनियन, टेंपो यूनियन सभी ने बंद को सफल बनाने का फैसला किया है। यह बंद पूरे भारत में होगा।

6- पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार को “जनविरोधी” कृषि कानूनों को तुरंत वापस लेना चाहिए या उसे सत्ता से हट जाना चाहिए। ममता ने पश्चिम मेदिनीपुर जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘वह भाजपा के कुशासन को सहन करने या चुप रहने के बजाय जेल में रहेंगी।

7- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP Chief Minister Yogi Adityanath) ऐक्शन में आ गए हैं। सीएम योगी ने उत्तर प्रदेश के सभी जिला और पुलिस प्रशासन को ‘भारत बंद’ को लेकर सतर्कता बरतने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही सीएम योगी ने किसानों के ‘भारत बंद’ का समर्थन कर रहे विपक्षी दलों के रवैये पर भी सवाल खड़े किए हैं।

8- वाम मोर्चा के अध्यक्ष विमान बोस ने सोमवार को पश्चिम बंगाल के लोगों से नये कृषि कानूनों के खिलाफ आठ दिसंबर को किसान संगठनों की ओर से आहूत भारत बंद को पूरी तरह सफल बनाने की अपील की।

9- लखनऊ से सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी किसानों के हर आंदोलन का समर्थन करती है। मुख्यमंत्री जी ये बताएं धान कितने में खरीदा गया है किसानों से, मक्के की क्या कीमत दी गई थी और गन्ने की फसल का अभी तक बकाया है किसानों का, ये कब बताएगी सरकार।

10- गुजरात CM विजय रूपाणी ने कहा कि गुजरात में किसानों और APMC की तरफ से भारत बंद को सपोर्ट नहीं है। गुजरात में ऐसी कोई स्थिति नहीं है। कल ये बंद सफल नहीं रहेगा। सरकार ने भी पूरी व्यवस्था की है कि बंद के नाम पर कोई हिंसक घटना न घटे।