मुंबई की फिल्म सिटी UP शिफ्ट होगी? योगी का उद्धव को सीधा जवाब- हम नई बना रहे

0
11

मुंबई
यूपी में फिल्म सिटी की स्थापना को लेकर महाराष्ट्र के सीएम की ओर से की गई टिप्पणी के मुद्दे पर सीएम योगी ने जवाब दिया है। यूपी के सीएम ने कहा है कि वह किसी राज्य से कुछ भी कहीं नहीं ले जा रहे। उन्होंने कहा कि यूपी की फिल्म सिटी वहां की मांग और जरूरतों के हिसाब से बन रही है, वहीं मुंबई की फिल्म सिटी अपनी जरूरतों के हिसाब से काम करेगी। योगी ने कहा कि हम यूपी में एक विश्व स्तरीय फिल्म सिटी बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं और इसी लिए आज फिल्म जगत के कई लोगों से मुलाकात की गई है।

योगी ने आगे कहा कि ना हम किसी के निवेश का नुकसान कर रहे हैं और ना ही किसी के विकास में बाधा बन रहे हैं। निवेश को प्रोत्साहित करने में पिक ऐंड चूज का विकल्प नहीं होता। सरकार इसके लिए तमाम नीतियां बनाती है और ये निवेशक के ऊपर है कि उसे अपना पैसा कहां लगाना है। ये सब चीजें सरकार पर लोगों के विश्वास पर आधारित हैं।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पहुंचे हैं। यहां उन्होंने फिल्म सिटी को लेकर उद्यमियों और फिल्म जगत से जुड़े लोगों से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने
बनाए जाने को लेकर प्रस्ताव, सुझाव और सहयोग मांगे। जिस तरह यूपी सीएम उद्यमियों से बात कर रहे थे, उसी दौरान होटल के बाहर एनसीपी के कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया। उधर यूपी सरकार के मंत्री ने कहा है कि अंडरवर्ल्ड के जरिए धमकी दी जा रही है कि यूपी में फिल्म सिटी न बने।

‘हम बना रहे एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट’
यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी में फिल्म सिटी के लिए जो जगह चुनी गई है वह जेवर एयरपोर्ट से छह किलोमीटर दूर है। यह एयरपोर्ट एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा। इस जगह से दिल्ली आधे घंटे में, आधे घंटे में मथुरा, आधे घंटे में दिल्ली और 45 मिनट में आगरा पहुंचा जा सकता है।

वर्ल्ड क्लास होगा यूपी का फिल्म सिटी प्रॉजेक्ट
यूपी सीएम ने कहा कि उन्होंने या उनकी टीम ने इस फील्ड में काम नहीं किया है। इस फिल्ड में आप लोगों ने काम किया है। आप लोगों के पास लंबा अनुभव है। क्या किया जा सकता है? इसके लिए सुझाव दें। योगी ने कहा कि यूपी में जो फिल्म सिटी बनाई जाएगी वह वर्ल्ड क्लास की फिल्म सिटी होगी। आप सबको आमंत्रित करने के लिए आया हूं।

पढ़ें:

योगी के दौरे पर शिवसेना का तंज
योगी ने अपनी इस यात्रा के दौरान फिल्म जगत के तमाम लोगों से भेंट की है। योगी आदित्यनाथ और अक्षय कुमार की मुलाकात पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने तंज कसते हुए कहा, ‘फाइव स्टार होटल में ठहरे साधु महाराज के लिए अक्षय शायद आम की टोकरी लेकर गए होंगे।’ उन्होंने आगे कहा, ‘मुंबई की फिल्म सिटी अगर कोई यहां से लेकर जाने की बात करता है तो यह मजाक है, इतना आसान नहीं है। इतनी साल पुरानी फिल्म सिटी है। हम सबका खून-पसीना बहा है। योगी जी से इतना ही पूछूंगा कि आप कोई बड़ा प्रोजेक्ट बनाना चाहते हैं बनाइए। लेकिन कुछ साल पहले जो नोएडा में फिल्म सिटी बनी थी उसका क्या हाल है। वहां कितनी फिल्मों की शूटिंग हुई, ये हमें आकर बताइए।’

कहां राजा भोज कहां गंगू तैली- महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना
वहीं राज ठाकरे की एमएनएस ने भी पोस्टर के जरिए योगी आदित्यनाथ को निशाने पर लिया है। पोस्टर में लिखा गया है कि ‘कहां राजा भोज कहां गंगू तेली’ पोस्टर में आगे लिखा है कि, कहां महाराष्ट्र का वैभव और कहां यूपी की दरिद्रता। सिनेमा के जनक दादा साहब फाल्के हैं जिन्होंने उसकी शुरुआत की है। इसे यूपी ले जाने के लिए लोग मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रहे हैं। असफल राज्य की विफलता को छिपाने और मुंबई का उद्योग ले जाने आया है ठग।

कोई यहां से जबरन बिजनस नहीं ले जा सकता है- उद्धव ठाकरे
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी योगी आदित्यनाथ पर उनका नाम लिए बगैर निशाना साधा था। उद्धव ने कहा कि कोई भी महाराष्ट्र आकर इंडस्ट्री को यहां से नहीं ले जा सकता। उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘महाराष्ट्र कॉम्पिटिशन से नहीं डरता है लेकिन कोई जबरन यहां से बिजनस लेकर नहीं जा सकता है। इसकी इजाजत नहीं होगी। हम किसी की प्रगति से ईर्ष्या में नहीं है लेकिन यह फेयर कॉम्पिटिशन के जरिए होना चाहिए। उद्धव ने कहा कि निवेशकों को आकर्षित करने के लिए इस्तेमाल किया गया कीवर्ड मैग्नेटिक महाराष्ट्र काफी शक्तिशाली है। महाराष्ट्र का संस्कृति और संस्था इसकी मजबूती हैं। कुछ लोग आज आ रहे हैं, वे आपसे मिलेंगे भी और अपने साथ आने के लिए कहेंगे। लेकिन महाराष्ट्र की मैग्नेटिक मजबूती काफी शक्तिशाली है जो चीजों को यहां से जाने से रोकेगी।’