कांग्रेस में यह क्या हो रहा? पार्टी उठा रही सवाल, पर शर्मा कर रहे मोदी का गुणगान

0
11

नई दिल्ली
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कोरोना वैक्सीन तैयार कर रही कंपनियों के संयंत्रों का दौरा करने के लिये रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की और कहा कि इससे भारतीय वैज्ञानिकों को पहचान मिली है और यह अग्रिम पंक्ति के कोविड योद्धाओं का मनोबल बढ़ाएगा। हालांकि, एक दिन पहले ही कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर निशाना साधा था। बता दें कि वरिष्ठ नेता शर्मा ने रविवार को एक अलग दृष्टिकोण पेश किया। वह पार्टी के प्रवक्ता हैं और कांग्रेस के उन 23 नेताओं के समूह में शामिल हैं, जिन्होंने पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को पत्र लिखकर संगठन में बड़े पैमाने पर बदलाव की मांग की थी।

शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री की यात्रा भारतीय वैज्ञानिकों और कोविड-19 के लिए टीका बनाने के उनके काम की पहचान है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने ट्वीट कर कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सीरम इंस्टीट्यूट, भारत बायोटेक और जाइडस कैडिला की यात्रा भारतीय वैज्ञानिकों और कोविड-19 के लिए टीका तैयार करने के उनके काम की पहचान है। यह अग्रिम पंक्ति के कोविड योद्धाओं का मनोबल बढ़ाएगा और राष्ट्र को आश्वस्त करेगा।’

पीएम मोदी से की ये अपील
आनंद शर्मा ने कहा, ‘यह उन संस्थाओं का भी सम्मान है, जिन्हें भारत ने कई दशकों में तैयार किया है, जिनमें भारत को दुनिया का सबसे बड़ा टीका निर्माता बनाने की विशेषज्ञता और क्षमता है। प्रधानमंत्री से आग्रह है कि टीका उपलब्ध होने पर कुशल और न्यायसंगत व्यवस्था सुनिश्चित करें।’

सुरजेवाला ने पीएम मोदी पर लगाया था आरोप
प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार को अहमदाबाद, हैदराबाद और पुणे का दौरा कर कोरोना वायरस के टीके के विकास और निर्माण प्रक्रिया की समीक्षा की थी। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था, ‘मोदी जी कंपनियों के दफ़्तर जा फ़ोटो खिंचा रहे हैं और लाखों किसान दिल्ली की सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। काश, प्रधानमंत्री जहाज़ की बजाय ज़मीन पर किसान से बात करते।’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘कोरोना का टीका वैज्ञानिक और शोधकर्ता ढूंढेंगे। देश का पेट किसान पालेंगे। लेकिन मोदी जी और भाजपा के नेता कुछ नहीं करके सिर्फ प्रचार पर केंद्रित हैं।” हाल के दिनों में विभिन्न मुद्दों पर कांग्रेस के नेताओं ने अलग-अलग विचार व्यक्त किए हैं।