Farmers Protest: आंदोलनकारी किसानों की सरकार से मांग, जंतर-मंतर में दीजिए धरने की इजाजत वरना बॉर्डर पर ही डटेंगे हम

0
5

नई दिल्ली
केंद्रीय सरकार ने किसानों ( Latest Update) को बातचीत का ऑफर दे दिया है लेकिन अभी फिलहाल किसानों का गुस्सा नहीं थम रहा है। हरियाणा के जींद से किसानों का दिल्ली की ओर कूच करना शनिवार को भी जारी रहा। शुक्रवार देर शाम से ही पंजाब के किसान दिल्ली की ओर रवाना होने शुरू हो गए थे लेकिन काफी किसान किनाना से लेकर पौली गांव तक बन रहे चार लेन मार्ग पर रूके हुए थे। इसके साथ ही किसानों की मांग है कि वो जंतर-मंतर पर पर ही अनशन करेंगे और सरकार उनको ये इजाजत दे।

जारी है किसानों का आनादिल्ली के बुरारी में निरंकारी समागम ग्राउंड में “शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन” ( Burari) करने की अनुमति दिए जाने के एक दिन बाद प्रदर्शनकारी किसान शनिवार को सिंघू और टिकरी सीमा पर रुके रहे। उन्होंने सरकार से जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने की मांग की। पंजाब के सबसे बड़े किसान संघ बीकेयू उग्राहन ने कहा, ‘हम निरंकारी पार्क नहीं जाएंगे और राष्ट्रीय राजधानी के बाहरी इलाके में तब तक बैठेंगे जब तक जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी जाती।’

पूरी तैयारी में हैं किसानकिसान ट्रालियों में लकड़ियां, दूध,सब्जियां, सिलेंडर व अन्य सामान साथ लेकर चल रहे हैं। प्रशासन द्वारा दिल्ली की ओर कूच कर रहे किसानों की गिनती के लिए कर्मचारियों को भी तैनात किया गया था। शुक्रवार रात से ही वाहन दिल्ली की ओर बढ़ रहे थे और काफी लंबा काफिला शनिवार दोपहर तक भी चलता रहा।

हुक्के समेत बस अड्डे पहुंचे किसानड्यूटी मजिस्ट्रेट मनोज कुमार ने बताया कि शुक्रवार रात से किसान जुलाना क्षेत्र में रूके हुए थे और शनिवार सुबह से ही किसान दिल्ली की ओर रवाना होने शुरू हो गए। प्रशासन के आदेशानुसार, किसानों को दिल्ली के लिए शांतिपूर्वक जाने दिया गया है। इस बीच, पौली गांव में पंजाब के किसानों के लिए नाश्ते का प्रबंध भी स्थानीय किसानों द्वारा किया गया था। किसानों के आवागमन की सूचना पाकर पौली गांव के किसान हुक्के सहित बस अड्डे पर पहुंचे। किसानों का कहना है कि वे अपने किसानों भाइयों की मदद की हरसंभव कोशिश करेंगे।

इन मार्गों से बचेंकिसान आंदोलन के चलते दिल्ली के कुछ मार्गों में ट्रैफिक की समस्या पैदा हो रही है। अब दिल्ली सिंघू और टिकरी बार्डर बंद कर दिये जाने से शनिवार को दिल्ली में अहम मार्गों पर यातायात प्रभावित रहा। दिल्ली यातायात पुलिस ने ट्वीट किया कि आजादपुर और बाहरी रिंगरोड से सिंघू बार्डर के लिए यातायात की अनुमति नहीं है। संयुक्त पुलिस आयुक्त (यातायात) मीनू चौधरी ने कहा, ‘हम यात्रियों से सिंघू बोर्डर एवं टिकरी बोर्डर, मुकरबा चौक, एनएच 44, जीटी करनाल रोड और बाहरी रिंगरोड की ओर यात्रा करने से परहेज करने की अपील करते हैं।’

किसान आंदोलन को लेकर खट्टर का बयानहरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर (Manoharlal Khattar) ने कृषि विधेयकों के खिलाफ जारी किसानों के प्रदर्शन (
) में खालिस्तानी (
) एंगल की बात को दोहराया है। खट्टर ने शनिवार को खुफिया इनपुट के हवाले से प्रदर्शन में खालिस्तानियों के शामिल होने की बात की। CM खट्टर ने कहा, ‘हमारे पास इनपुट है कि कुछ अवांछित तत्व इस भीड़ के अंदर आए हुए हैं। हमारे पास इसकी रिपोर्ट्स है। अभी इसका खुलासा करना ठीक नहीं है। उन्होंने सीधे नारे लगाए हैं। जो ऑडियो और वीडियो सामने आए हैं, उनमें इंदिरा गांधी को लेकर साफ नारे लगा रहे हैं और कह रहे हैं कि जब इंदिरा के साथ ये कर दिया तो मोदी क्या चीज है।’