देखें: चीन-पाक की बढ़ेगी टेंशन…हवा में चीथड़े उड़ा देगी भारत की क्विक रिऐक्शन मिसाइल

0
20

नई दिल्ली
सीमा की सुरक्षा में डटे भारतीय जवानों () के पास मौजूद हथियारों की खेप में एक और शस्त्र जुड़ने जा रहा है। भारत ने एक खास मिसाइल का परीक्षण किया, जो कि प्रयोग में पूरी तरह से सफल रही। इसका नाम (Quick Reaction Surface to Air Missile) है। इस उपलब्धि पर भारत के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी डीआरडीओ को बधाई दी है।

इस मिसाइल ने परीक्षण के दौरान अपने निशाने को सफलतापूर्वक भेद लिया। केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह कहा कि क्विक रिऐक्शन सरफेस टू एयर मिसाइल के बैक टू बैक दो सफल ट्रायल के लिए डीआरडीओ को शुभकामनाएं। इसका पहला लॉन्च टेस्ट 13 नवंबर को किया गया। इसमें यह साबित हुआ कि मिसाइल निशाने को सफलतापूर्वक भेद सकती है।

…ताकि कोई दुस्साहस न करे चीन
बता दें कि भारत ने ड्रोन जैसी तमाम चीजों को मार गिराने वाली मिसाइल का सफल परीक्षण ओडिशा के बालासोर में किया था। उधर, मालाबार युद्धाभ्यास का पहला चरण तीन से छह नवंबर के बीच बंगाल की खाड़ी में हुआ और इस दौरान पनडुब्बी युद्ध और समुद्र से हवा में मार करने की क्षमता का अभ्यास किया गया। यह युद्धाभ्यास ऐसे समय हो रहा है जब पिछले 6 महीने से भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में सीमा पर गतिरोध चल रहा है जिससे दोनों देशों के रिश्तों में तनाव आया है। युद्धाभ्यास विस्तारवादी चीन को एक तरह से कड़ा संदेश है कि हिंद-प्रशांत क्षेत्र में उसका कोई भी दुस्साहस महंगा पड़ेगा।