अयोध्‍या: धर्म परिवर्तन के बाद निकाह-बच्‍चे…फिर दूसरी युवती के साथ हुआ फरार

0
13

संजीव आजाद, अयोध्या
उत्‍तर प्रदेश में लव जिहाद और धर्म परिवर्तन करा शादी करने के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। अब रामनगरी अयोध्‍या में इस तरह की घटना सामने आई है। एक युवती ने मुस्लिम युवक पर धर्म परिवर्तन करा निकाह करने का आरोप लगाया है। दोनों का एक बेटा भी है। कुछ समय के बाद उसके पति का किसी दूसरी लड़की से प्रेम-प्रसंग हो गया और वह उसे लेकर फरार हो गया। पति अब पत्‍नी पर तलाक देने का दबाव बना रहा है। पीड़ित युवती न्याय के लिए प्रयागराज से लेकर अयोध्या तक दर-दर भटक रही है। उसका कहना है कि पति पहले भी एक लड़की को भगाने के आरोप में जेल जा चुका है। पुलिस आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन में जुटी है। युवती का कहना है कि यदि उसे न्याय न मिला तो आत्महत्या कर लेगी।

जानकारी के मुताबिक, अयोध्या के गोसाईंगंज क्षेत्र की एक युवती प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए प्रयागराज गई थी। वहां उसकी मुलाकात सलीम उर्फ जीशान से हुई। दोनों के बीच प्‍यार परवान चढ़ा और उन्‍होंने निकाह कर लिया। आरोप है कि युवती का धर्म परिवर्तन कराया गया। निकाह के बाद कुछ समय तो सब ठीक रहा पर उसके बाद पति की दूसरी लड़की से संबंध हो गए और वह पत्‍नी का उत्‍पीड़न करने लगा।

पीसीएस परीक्षा पास कर लेने का दावा
इस मामले में समाजसेवी हनुमान सोनी ने बताया कि पीड़िता बहुत ही गरीब परिवार से ताल्लुख रखती है। इसके घर में केवल एक मां है। परिवार की ऐसी हालत को देखते हुए हमारी संस्था ने इस पढ़ाया और आगे तैयारी कराने के लिए इलाहाबाद भेजा। दावा है कि पीड़िता ने पीसीएस परीक्षा पास कर ली थी। इसी दौरान इसकी मुलाकात एक मुस्लिम लड़के से हुई और दोनों ने निकाह कर लिया। इसके बाद संस्था के लोगों ने इससे बात करना बंद कर दिया। कई साल बाद युवती ने फोन कर अपनी आपबीती बताई तो उसे अयोध्‍या बुला लिया गया ताकि उसके साथ कोई अप्रिय घटना ना घटे।

ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त नहीं करेगा संत समाज : राजूदास
इस मामले में हनुमानगढ़ी के मुख्य पुजारी राजूदास ने कहा है कि ऐसी घटनाओं को संत समाज बिलकुल बर्दाश्‍त नहीं करेगा। लव जिहाद, धर्म परिवर्तन जैसे मामले अब लगातार बढ़ते जा रहे हैं, जिस पर जल्द से जल्द लगाम लगाने के लिए उचित कार्रवाई होनी चाहिए और ऐसा कृत्य करने वालों पर सख्त से सख्त कदम उठाना चाहिए।