बल्लभगढ़ : निकिता के पिता बोले- तौसीफ ने वादा किया था, बेटी को परेशान नहीं करेगा पर जान ही ले ली

0
17

फरीदाबादबल्लभगढ़ क्षेत्र () के अग्रवाल कॉलेज से पेपर देकर निकल रही युवती की गोली मारकर हत्या करने के मामले में क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने दो आरोपियों को दबोच लिया है। इनसे एक देसी तमंचा भी बरामद किया गया है। दोनों को मंगलवार को कोर्ट में पेश करके दो दिन की रिमांड पर लिया गया है। मृतक निकिता () के पिता मूलचंद तोमर ने आरोप लगाया कि पूरा मामला लव जिहाद () का है।

उन्होंने बताया कि आरोपी तौसीफ () ने बेटी का पहले भी अपहरण करने की कोशिश की थी। उस वक्त उसके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया था। मगर उसके माता-पिता ने जब ये वादा किया था कि वो उनकी बेटी को परेशान नहीं करेगा तो उन्होंने समझौता करके केस वापस ले लिया था। मगर फिर से आरोपी उसे परेशान कर रहा था।

सीएम ने दिया सख्त कार्रवाई का आश्वासनमुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने हत्याकांड का स्वतः संज्ञान लेते हुए हरियाणा के डीजीपी को पत्र लिखा है। निकिता के भाई प्रवीण का कहना है कि हम चाहते हैं कि जल्द से जल्द हमारी बहन को न्याय मिले। दोषियों को फांसी हो या उनका एनकाउंटर किया जाए।

धर्म परिवर्तन कर शादी करने का दबाव बना रहा था तौसीफ
निकिता के पिता ने बताया कि मुख्य आरोपी तौसीफ कई सालों से उनकी बेटी पर धर्म परिवर्तन कर उससे शादी करने का दबाव बना रहा था। निकिता पढ़ाई में हमेशा अव्वल आती थी। ऐसे में वो उससे बात भी नहीं करना पसंद करती थी। उन्होंने बताया कि आरोपी 2018 में भी लड़की को अपने साथ ले गया था जिस पर मामला थाना सिटी में दर्ज किया गया था। निकिता के पिता का दावा है कि आरोपी की मां पिछले दो साल से बेटी पर धर्म परिवर्तन का दबाव डाल रही थी।

कॉलेज से प्रदर्शन में पहुंचे छात्र
परिवारीजनों के चक्का जाम करने के बाद फरीदाबाद के हार्डवेयर रोड पर और एनआईटी-1 में लंबा जाम लग गया। निकिता के कॉलेज से छात्रों के आने से प्रदर्शनकारियों की भीड़ में इजाफा हो गया। सभी जुलूस के रूप में हाईवे की तरफ बढ़ने लगे। इस बीच विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ता भी प्रदर्शन में शामिल हो गए।

12 घंटे में पकड़े दोनों आरोपी
गिरफ्तार तौसीफ की उम्र 21 वर्ष है, आरोपी फिजियोथैरेपी का कोर्स कर रहा है। दूसरा आरोपी रेहान मेवात का रहने वाला है। इस मामले में एसआईटी गठित की गई है। पुलिस कमिश्नर ने क्राइम ब्रांच की 10 टीमों को जल्द से जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करने के दिशा निर्देश दिए थे।

निकिता की हत्या के विरोध में स्थानीय लोगों ने जाम की सड़क
उधर निकिता की हत्या के विरोध में मंगलवार को गुस्साए लोगों ने सोहना रोड को जाम करने के बाद नैशनल हाइवे पर जाम लगा दिया। तीन घंटा बीस मिनट हाइवे जाम होने पर पुलिस ने ट्रैफिक को डायवर्ट कर बाइपास से वाहनों को निकाला। मंगलवार सुबह करीब साढ़े 8 बजे अपना घर सोसाइटी के पास आसपास के लोग एकत्रित होने लगे। थोड़ी ही देर बाद सभी ने सोसाइटी के सामने सोहना रोड पर जाम लगा दिया। रोड जाम होने की सूचना मिलने पर पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने जाम को देखते हुए पर्वतीय कॉलोनी में रूट डायवर्ट कर वाहनों को निकाला। धरने पर बैठे लोगों ने प्रदेश सरकार और पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

आरोपी तौसीफ का राजनीतिक परिवार से है संबंध
मुख्य आरोपी तौफिक के दादा कबीर अहमद विधायक रह चुके हैं, जबकि चाचा खुर्शीद अहमद हरियाणा के पूर्व मंत्री रहे हैं। नूंह (मेवात) विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक आफताब अहमद तौफिक का चचेरा भाई है। मुख्य आरोपी तौफिक के साथ-साथ उसका साथी रेहान निवासी नूंह भी साथ था। तौफिक कबीर नगर सोहना का निवासी है।