PM ने की अहम बैठक, रोज घट रहे कोरोना के नए मामले, वैक्सीन पर भी देश को मिला अपडेट

0
47

नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कोविड-19 पर एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कोरोना से निपटने के दौरान ढिलाई बरतने को लेकर चेताया, साथ ही महामारी को नियंत्रित करने के प्रयासों को जारी रखने का आह्वान किया। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान में देश को कोरोना वैक्सीन के बारे में भी जानकारी दी गई। PMO के मुताबिक भारत में तीन टीके विकसित होने के उन्नत चरणों में है, जिनमें से दो टीके चरण-2 में और एक टीका तीसरे चरण में है। पीएमओ ने आगे बताया है कि कोविड-19 वायरस जीनोम पर दो अखिल भारतीय अध्ययनों से पता चलता है कि वायरस आनुवंशिक रूप से स्थिर है, इसमें कोई बड़ा परिवर्तन नहीं है।

पीएम मोदी के साथ समीक्षा बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और विभाग के तमाम अधिकारी भी मौजूद रहे। इस दौरान पीएम मोदी ने अधिकारियों से कहा कि कोरोना वैक्सीन के वितरण को लेकर एक व्यवस्था बनानी चाहिए ताकि जल्दी से जल्दी पूरे देश में कोरोना वैक्सीन पहुंच सके। पीएम मोदी ने जोर देकर इस बात को कहा कि टीके का डिस्ट्रीब्यूशन सुचारू रूप से होना चाहिए।

चुनाव प्रक्रिया की तरह हो टीके का वितरणप्रधानमंत्री ने चुनाव आयोजन की तरह टीका वितरण की ऐसी प्रणाली विकसित करने का सुझाव दिया जिसमें सरकारी और नागरिक समूहों की प्रत्येक स्तर पर भागीदारी हो। पीएम मोदी के साथ इस बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री, सदस्य (स्वास्थ्य) नीति आयोग और भारत सरकार के अन्य विभागों के अधिकारी शामिल थे।

पीएम मोदी ने निर्देश दिया कि कोरोना से जूझते वैश्विक समुदाय की मदद करने का प्रयास करना चाहिए और पड़ोस में अपने प्रयासों को सीमित नहीं करना चाहिए। पीएम ने कहा कि वैक्सीन वितरण प्रणाली के लिए टीके, दवाइयां और आईटी प्लेटफॉर्म प्रदान करने के लिए पूरी दुनिया तक पहुंचना चाहिए।

त्योहारों में सामाजिक दूरी की अपीलपीएम ने प्रतिदिन के मामलों और वृद्धि दर में लगातार गिरावट का उल्लेख किया। प्रधानमंत्री ने त्योहारों के दौरान सामाजिक दूरी, कोविड-19 दिशा-निर्देशों का पालन करने और आत्मसंयम बरतने की अपील की। उन्होंने आगे निर्देश दिया कि देश के सभी कोनों और वहां की स्थितियों को देखते हुए वैक्सीन को तेजी से पहुंचाने की दिशा में काम किया जाना चाहिए। पीएम ने जोर देकर कहा कि लॉजिस्टिक्स, डिलीवरी और एडमिनिस्ट्रेशन में हर कदम को सख्ती से लागू किया जाना चाहिए।

74 लाख पार कोरोना देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 74 लाख के पार चली गई है, वहीं संक्रमण मुक्त हुए लोगों की संख्या भी 65 लाख से अधिक हो गई है। इस प्रकार संक्रमण से स्वस्थ होने वालों की दर 87.78 प्रतिशत हो गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शनिवार को सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकडों के अनुसार, कोविड-19 के 62,212 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 74,32,680 हो गए हैं, वहीं संक्रमण से 837 लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 1,12,998 हो गई है।