अब कोरोना का वैक्सीन आने के बाद ही बैंड-बाजा और बारात

0
21

संजय श्रीवास्‍तव, गाजियाबादअगले साल की शुरुआत में कोरोना की वैक्सीन की उम्मीद को लेकर लोगों ने अपने कार्यक्रम टालने शुरू कर दिए हैं। लोगों का मानना है कि वैक्सीन आने के बाद ही शादी-विवाह जैसे कार्यक्रमों में रौनक आएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी अगले साल की शुरुआत में वैक्सीन आने का दावा कर रहे हैं।

केंद्र के निर्देश पर जिला प्रशासन बुजुर्गों को पहले दवा देने के लिए लिस्ट बनाने का काम भी कर रहा है। इससे लोगों को अगले साल तक वैक्सीन आने की ज्यादा उम्मीद लग रही है। उनका तर्क है कि वैक्सीन आने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के साथ कार्यक्रम में उपस्थित लोगों की संख्या में बढ़ाई जाएगी, तब ही कार्यक्रम में रौनक आएगी। अभी वैवाहिक कार्यक्रम में 100 से कम लोग और मृत्यु में 50 लोग शामिल हो सकते हैं।

पहले बुजुर्गों को दी जाएगी दवाकेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने आम लोगों के साथ संवाद कार्यक्रम में कहा था कि भारत में कोरोना वैक्सीन पर तेजी से काम चल रहा है। उम्मीद है कि अगले साल की शुरुआत में यह तैयार हो जाए। लोगों को भरोसा दिलाने की बात है तो वह स्वयं वैक्सीन का पहला डोज लेने को तैयार हैं। इसके बाद केंद्र ने भी वैक्सीन की डोज पहले बुजुर्गों को देने के लिए लिस्ट बनाने के निर्देश दिए हैं।

अब फरवरी में विवाह करने पर विचारविवेकानंद नगर निवासी सुनील कुमार बताते है कि उन्होंने अपने बेटे विकास का विवाह नवंबर में प्लान कर लिया था। इसमें केवल परिवार के ही 20 लोगों की लिस्ट बनाई थी। उतने ही वधु पक्ष से शामिल होने के लिए कहा था। अब जब स्वास्थ्यमंत्री हर्षवर्धन ने बयान दिया है कि साल की शुरुआत में कोरोना वैक्सीन आ ही जाएगी और तब तक संक्रमण का असर भी घट जाएगा तो विवाह अब नवंबर से आगे कर फरवरी में करने पर विचार कर रहे हैं। बेटे का विवाह है तो धूमधाम के साथ करेंगे और अपने रिश्तेदारों के साथ सभी मित्रों को भी आमंत्रित करना चाहते हैं।

2 महीने आगे बढ़ाई जा रही शादी की तारीखपटेल नगर निवासी आरके शर्मा कहते हैं कि उन्होंने अपनी बेटी का विवाह परिवार के 20 लोगों के साथ मिलकर दिसंबर में करने का फैसला किया था। अब स्वास्थ्य मंत्री के बयान के बाद बेटी के ससुराल पक्ष के लोग 2 महीने कार्यक्रम आगे करने के बारे में बोल रहे हैं।