Farm Bills : हाथरस जाने से रोके गए, अब हरियाणा सरकार ने क्यों बैन कर दी राहुल की एंट्री

0
34

चंडीगढ़
कांग्रेस नेता के 3-5 अक्टूबर के बीच पंजाब और हरियाणा में प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली से पहले ही प्रदेश की मनोहर लाल खट्टर सरकार सतर्क हो गई है। खबर है कि प्रदेश में राहुल गांधी के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज ने राहुल गांधी द्वारा राज्य में माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया है।

विज ने कहा कि पंजाब सरकार हरियाणा में भीड़ भेजने की कोशिश कर रही है, जिसे हमने दो मौकों पर रोक दिया था। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वह कांग्रेस नेता राहुल गांधी को प्रदेश में नहीं घुसने देंगे। साथ ही हरियाणा में किसी भी मुद्दे पर राजनीति करने के लिए किसी कांग्रेसी नेता को वह राज्य में प्रवेश करने की इजाजत नहीं देंगे।

विज ने आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस किसानों को भटकाने की कोशिश कर रही है और राहुल गांधी ट्रैक्टर यात्रा के जरिए देश भर के माहौल को दूषित करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हर मोर्चे पर विफल है। यही कारण है कि वह राजनीति करके मुद्दों को जटिल बनाती है।

कांग्रेस निकालेगी ट्रैक्टर यात्रा
गौरतलब है कि किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ आवाज उठाने के लिए गांधी ने ट्रैक्टर रैली के आयोजन का ऐलान किया था। बताया गया था कि पंजाब में राहुल गांधी की इस रैली में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी शामिल होंगे। पार्टी सूत्रों ने बताया कि किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ आवाज उठाने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, कांग्रेस महासचिव और पार्टी के पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़, राज्य के सभी मंत्री और कांग्रेस विधायक प्रदर्शन में शामिल होंगे। ट्रैक्टर रैलियों को किसान संगठनों का समर्थन मिलने की भी उम्मीद है। रैलियों में तीन दिन में 50 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय की जाएगी।

5 अक्टूबर को हरियाणा में प्रवेश का कार्यक्रम
पार्टी प्रवक्ता ने बताया कि रैलियां तीनों दिन हर रोज सुबग लगभग 11 बजे शुरू होंगी। इनका आयोजन कोविड-19 संबंधी प्रोटोकॉल का पालन करते हुए किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पांच अक्टूबर को धुदन साधन (पटियाला) से रैली एक जनसभा के साथ शुरू होगी और पिहोवा बॉर्डर तक ट्रैक्टर से 10 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी, जहां से राहुल गांधी हरियाणा में प्रवेश करेंगे। हरियाणा कांग्रेस के सूत्रों के अनुसार राहुल गांधी 5 अक्टूबर को कैथल और कुरुक्षेत्र जिले के पीपली में रैलियों को संबोधित कर सकते हैं।

हालांकि, राहुल की रैली से पहले ही हरियाणा सरकार ने उनके प्रदेश में प्रवेश पर रोक लगा दी है। वहीं, इससे पहले उत्तर प्रदेश के हाथरस में कथित रेप का शिकार युवती के परिजन के मिलने जा रहे राहुल गांधी को हिरासत में ले लिया गया। यूपी के पुलिस अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है। वहीं कांग्रेस नेताओं ने दावा किया है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि दोनों नेताओं के काफिले को ग्रेटर नोएडा पुलिस ने रोक लिया।

कांग्रेस ने किया गिरफ्तारी का दावा
इसके बाद राहुल पैदल ही हाथरस के लिए निकल गए। कुछ देर पैदल चलने के बाद पुलिस ने उन्हें फिर रोक दिया। कांग्रेस ने एक वीडियो जारी किया है जिसमें पार्टी के पूर्व अध्यक्ष पुलिस से यह पूछते नजर आ रहे हैं कि उन्हें किस धारा के तहत गिरफ्तार किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमिटी के मीडिया संयोजक ललन कुमार ने भी बताया कि प्रियंका और राहुल हाथरस कांड के पीड़ित परिवार से मुलाकात करने जा रहे थे। रास्ते में ग्रेटर नोएडा पुलिस ने उनके काफिले को परी चौक इलाके में रोक लिया।

उन्होंने बताया कि यमुना एक्सप्रेस वे पर रोके जाने के बाद प्रियंका और राहुल पैदल ही हाथरस के लिये रवाना हो गए। जहां उन्हें रोका गया, वहां से हाथरस की दूरी 142 किलोमीटर है। वहीं, गौतमबुद्ध नगर के पुलिस आयुक्त आलोक सिंह ने बताया कि दोनों नेताओं को हिरासत में लिया गया है।

(भाषा इनपुट के साथ)