चीन से तनाव के बीच पड़ोसियों से रिश्ते मजबूत करने में जुटा भारत, राजपक्षे से की बात

0
64

नई दिल्‍ली
चीन के साथ सीमा पर तनाव के बीच, भारत ने पड़ोसी देशों से रिश्‍ते बेहतर करना शुरू कर दिया है। शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीलंकाई प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे से चर्चा की। वर्चुअल द्विपक्षीय सम्‍मेलन में मोदी ने राजपक्षे को पीएम चुने जाने की बधाई दी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत और श्रीलंका के रिश्‍ते हजारों साल पुराने हैं। राजपक्षे ने कोरोना महामारी के समय दूसरे देशों को दी गई भारतीय मदद की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि भारत ने एमटी न्‍यू डायमंड शिप पर आग बुझाने में जिस तरह मदद की, उससे दोनों देशों के बीच सहयोग का नया अवसर बना।

श्रीलंका के रिश्‍तों को खास अहमियत: मोदीपीएम मोदी ने कहा, “मेरी सरकार की नेबरहुड फर्स्‍ट नीति और SAGAR डॉक्ट्रिन के तहत, श्रीलंका से संबंधों को हम विशेष और उच्‍च प्राथमिकता देते हैं। भारत और श्रीलंका BIMSTEC, IORA, SAARC मंचों पर भी घनिष्‍ठ सहयोग करते हैं।” मोदी ने राजपक्षे को बधाई देते हुए कहा, “आपकी पार्टी ही हाल ही जीत के बाद भारत और श्रीलंका के संबंधों में एक नए ऐतिहासिक अध्‍याय को जोड़ने का एक बहुत अच्‍छा अवसर बन रहा है। दोनों देशों के लोग नई आशा और उत्‍साह के साथ हमारी ओर देख रहे हैं। मुझे पूरा विश्‍वास है आपको प्राप्‍त मजबूत जनादेश और आपकी नीतियां हमें द्विपक्षीय सहयोग के सभी क्षेत्रों में प्रगति करने में मदद मिलेगी।”

भारत ने श्रीलंका को क्‍या दिया?विदेश मंत्रालय की हिंद महासागर क्षेत्र डिविजन के संयुक्‍त सचिव अमित नारंग ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने दोनों देशों के बौद्ध संबंधों को प्रमोट करने के लिए 15 मिलियन डॉलर की मदद का ऐलान किया है। उत्‍तर प्रदेश के कुशीनगर में पहली फ्लाइट के लिए श्रीलंका से बौद्ध तीर्थयात्रियों के प्रतिनिधिमंडल की यात्रा भारत स्‍पांसर करेगा। कोविड महामारी के लिए सेंट्रल बैंक ऑफ श्रीलंका को 400 मिलियन डॉलर की करेंसी स्‍वैप सुविधा दी गई है। प्रधानमंत्रियों की बातचीत के दौरान, राजपक्षे ने जाफना कल्‍चरल सेंटर का जिक्र किया जो भारत की मदद से बना है। उन्‍होंने पीएम मोदी को इसके उद्घाटन के लिए आने का न्‍योता दिया।

अगस्‍त में प्रधानमंत्री बनने के बाद महिंदा राजपक्षे की किसी विदेशी नेता से यह पहली राजनयिक मुलाकात है। इस मुलाकात से पहले, श्रीलंकाई राष्‍ट्रपति गोतबाया राजपक्षे नवंबर 2019 और फरवरी 2020 में भारत आ चुके हैं।

श्रीलंका को 100 मिलियन डॉलर का LoCभारत ने तीन सोलर प्रोजेक्‍ट्स के लिए 100 मिलियन डॉलर का लाइन ऑफ क्रेडिट दिया है। दोनों देशों के बीच मछुआरों के मुद्दे पर लंबी बातचीत हुई। पीएम मोदी ने 6 अगस्‍त को राजपक्षे को फोन कर प्रधानमंत्री बनने की बधाई दी थी। दोनों देशों के बीच डिफेंस से लेकर आर्थिक, विकास, शिक्षा और संस्‍कृति के मुद्दे पर भी बात हुई।