टीकमगढ़ : फासी..टीकमगढ़ | Tikamgarh: Hanging..Tikamgarh

0
88

टीकमगढ़ जिले के खरगापुर कस्बे में आज एक ही परिवार के पांच लोगों के शव संदिग्ध अवस्था में घर के बंद कमरे में फांसी पर लटकते मिले

टीकमगढ़ जिले के खरगापुर कस्बे में आज एक ही परिवार के पांच लोगों के शव संदिग्ध अवस्था में घर के बंद कमरे में फांसी पर लटकते मिले, मृतकों में 63 वर्षीय बुजुर्ग धरमदास सोनी व उसकी पत्नि पूना सोनी व उनका पुत्र मनोहर सोनी तथा पुत्रबधु सोनम सोनी व 4 वर्षीय इकलौते सानिद्ध सोनी के नाम शामिल है, फिलहाल अभी तक इस मामले में स्पष्ट रूप से कुछ भी कहने में परहेज कर रही है, पुलिस का कहना है कि मामले की पूरी जांच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट रूप से कुछ कहा जा सकता है।
टीकमगढ़ जिले के खरगापुर कस्बे में आज सुबह उस समय सनसनी मच गई जब एक ही परिवार के पांच सदस्यों के फांसी पर लटकते शवों की जानकारी लोगों को लगी, तो हर किसी की जुवान पर बस एक ही सवाल था कि धरमदास सोनी व उनका लडका मनोहर आत्महत्या जैसा कदम नही उठा सकता, इसके बावजूद आखिर ऐसी घटना क्यों घटी, जबकि पड़ोसियों के बताये अनुसार पूरा परिवार शाम को सामान्य स्थिति में था, कही किसी के चेहरे तनाव जैसी कोई स्थिति या बात नजर नही आ रही थी, लेकिन आज सुबह-सुबह जब दूध वाले ने प्रतिदिन की भांति धरमदास सोनी के दरवाजे खटखटाये तो जब काफी देर तक अंदर से कोई आवाज नही आई तो दूधवाले ने इसकी जानकारी मुहल्लें के लोगों को दी, जानकारी लगते ही मुहल्ले के लोग मौके पर पहुंचे और देखा कि काफी शोर शराबा करने के बाद भी जब अंदर से कोई जबाव सुनाई नही दिया, तो लोगों को किसी अनहोनी की आशंका हुई और इसकी तुरंत जानकारी थाना पुलिस को दी, जानकारी लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची और अंदर से बंद कमरे को किसी तरह खोलकर जब अंदर देखा तो पुलिस के होश फाख्ता उड गये, जहां पांच शब अलग-अलग स्थानों पर फांसी पर लटकते दिखाई दिये, तो स्थानीय पुलिस ने तत्काल इसकी जानकारी अपने वरिष्ठ अधिकारियों को दी, जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक प्रशांत खरे व कलेक्टर सुभाष कुमार द्विवेदी के अलावा एफएसएल टीम मौके पर पहुंची, जहां पुलिस अधिकारियों सहित एफएसएल विशेषज्ञ डॉ.प्रदीप यादव ने घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण किया और आवश्यक साक्ष्य मौके से एकत्रित करने के बाद पांचों शवों को फांसी के फंदे से नीचे उतार कर पोस्टमार्टम के लिये भिजवाये। वही इस घटना को लेकर रिश्तेदार व पड़ोसियों का कहना है कि यह पूरा मामला संदिग्ध प्रतीत होता है, क्योंकि धरमदास सोनी व उनके बेटे का गांव व मुहल्ले में किसी से कोई रंजिश या विवाद नही था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here